जम्मू यूनिवर्सिटी के इतिहास में काउंसिल की पहली ऑनलाइन बैठक नौ घंटे तक चली, दो साल नहीं बढ़ेगी फीस

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Sat, 06 Jun 2020 04:15 PM IST
विज्ञापन
जम्मू विश्वविद्यालय
जम्मू विश्वविद्यालय - फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
कोरोना महामारी के बीच जम्मू यूनिवर्सिटी में अगले दो साल फीस की बढ़ोतरी नहीं करने का फैसला किया गया है। पहले हर साल दस फीसदी बढ़ोतरी का प्रावधान था। शुक्रवार को जम्मू यूनिवर्सिटी एकेडमिक काउंसिल की मैराथन नौ घंटे तक चली ऑनलाइन बैठक में फीस समेत कई अन्य महत्वपूर्ण फैसलों को मंजूरी दे दी गई।
विज्ञापन

यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. मनोज धर की अध्यक्षता में काउंसिल ने शैक्षिक सत्र 2019-2020 के एकेडमिक कैलेंडर के संशोधन को भी मंजूरी दे दी। ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कक्षाओं को लेकर परीक्षा नियंत्रक जल्द अलग से विस्तृत सूचना जारी करेंगे। यूनिवर्सिटी हर साल पूर्व डीन स्टूडेंट वेलफेयर प्रो. शैलेंद्र सिंह जम्वाल की याद में डिबेट ट्रॉफी प्रतियोगिता करवाएगी। काउंसिल सदस्यों ने कोरोना महामारी की चुनौती पर विस्तृत चर्चा करने के बाद नए कोर्स, विभाग, निदेशालय और अन्य फैसलों को स्वीकृति दे दी।
यह कोर्स, विभाग और निदेशालय खुलेंगे
जर्नलिज्म एंड मीडिया स्टडीज,  डिपार्टमेंट आफ फिलॉसफी, हिंदी निदेशालय, दो वर्ष का एमबीए एक्जीक्यूटिव प्रोग्राम, डिप्लोमा इन म्यूजोलॉजी एंड आर्केलॉजी, रिसर्च क्लस्टर, सात सेंटर आफ एक्सीलेंस खुलेंगे। एलुमनी एसोसिएशन आफ जम्मू यूनिवर्सिटी (संविधान सहित) को भी स्वीकृति मिल गई।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us