विज्ञापन

वोट का सौदा नहीं है मोदी सरकार का विकास मसौदा, नकवी बोले-‘तीन तलाक एक कुरीति और कुप्रथा

भाषा, नई दिल्ली Updated Sun, 12 Aug 2018 11:42 AM IST
Mukhtar Abbas Naqvi said modi government is committed for development not for the vote bank
विज्ञापन
ख़बर सुनें
केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि मोदी सरकार का विकास का मसौदा, वोट का सौदा नहीं है और तीन तलाक संबंधी विधेयक के पारित होने के मार्ग में रुकावट डालकर कांग्रेस पार्टी वही गलती दोहरा रही है जो उसने वर्ष 1985 में शाह बानो मामले में किया था। अल्पसंख्यक कार्य मंत्री नकवी ने एक खास बातचीत में बताया, ‘तीन तलाक एक कुरीति और कुप्रथा है और इसे धार्मिक एवं राजनीतिक नजरिये से देखना ठीक नहीं है।’
विज्ञापन
उन्होंने कहा कि तीन तलाक संबंधी विधेयक में मुस्लिम महिलाओं को सामाजिक न्याय दिलाने और संवैधानिक अधिकारों को मजबूत बनाने की पहल की गई है। लेकिन कांग्रेस पार्टी एवं उनके कुछ साथी दल इस विधेयक को लेकर बहानेबाजी कर रहे हैं और शुरू से ही इस विधेयक को रोकने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी की पृष्ठभूमि कुछ कट्टरपंथी निहित स्वार्थी तत्वों के सामने घुटने टेकने की वाली पार्टी की रही है। 

विपक्ष की आपत्तियों पर नकवी ने कहा कि दुरुपयोग तो किसी भी चीज का, कोई भी कर सकता है। धारा 302 का भी गलत इस्तेमाल हो सकता है। लेकिन इसकी वजह से हम कोई कानून ना बनाएं, किसी के साथ न्याय की बात न करें, अन्याय होता रहे, ऐसा नहीं हो सकता। उल्लेखनीय है कि तीन तलाक संबंधी विधेयक बजट सत्र में लोकसभा में पारित हुआ था लेकिन राज्यसभा में यह पारित नहीं हो पाया था। सरकार ने हाल ही में इस विधेयक में संशोधन किया है जिसके तहत मुस्लिमों में तीन तलाक से जुड़े प्रस्तावित कानून में आरोपी को सुनवाई से पहले जमानत जैसे कुछ संरक्षणात्मक प्रावधानों को शामिल किया गया है। 

प्रस्तावित कानून ‘गैरजमानती’ बना रहेगा लेकिन आरोपी जमानत मांगने के लिए सुनवाई से पहले भी मजिस्ट्रेट से गुहार लगा सकते हैं। गैरजमानती कानून के तहत, जमानत पुलिस द्वारा थाने में नहीं दी जा सकती। हालांकि विधेयक का संशोधित प्रारूप राज्यसभा में मानसून सत्र में पेश नहीं हुआ। यह पूछे जाने पर कि एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन औवैसी ने एससी, एसटी अत्याचार निवारण कानून में संशोधन की सरकार की पहल को ‘शाह बानो प्रकरण’ से जोड़ा है, नकवी ने कहा, ‘हमारा विकास का मसौदा, वोट का सौदा नहीं है।’ 

उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास दलित एवं पिछड़े समाज, कमजोर तबके का सशक्तिकरण है जिन्हें आजादी के सात दशक बाद भी तरक्की और विकास की जरूरत है। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि इसलिये एससी, एसटी मामले में न्यायालय के फैसले को लेकर संशोधन विधेयक लाने का कदम बिल्कुल सही है और यह सामाजिक न्याय के प्रति मोदी सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। नकवी ने कहा, ‘हमारी सरकार के विकास कार्यक्रम में सबसे अधिक प्राथमिकता गरीब, कमजोर और पिछड़ा वर्गों के साथ ऐसे लोगों पर है जिन तक विकास की रौशनी नहीं पहुंची है।’

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

India News

वीडियोः कर्नाटक में बैंक मैनेजर ने रखी लोन के बदले सेक्स की डिमांड

एक बैंक मैनेजर पर महिला ने लोन देने के बदले सेक्स की मांग करने का आरोप लगाकर सरेराह पिटाई की है।

16 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

‘गंदी’ डिमांड करने पर महिला ने की बैंक मैनेजर की धुनाई, वीडियो हुआ वायरल

कर्नाटक के दावनगेरे जिले में एक महिला ने बैंक मैनेजर को डंडे से जमकर पीटा। महिला का आरोप था कि लोन देने के बदले बैंक मैनेजर ने उससे शारीरिक संबंध बनाने की मांग की। इसके बाद महिला ने बैंक मैनेजर की धुनाई शुरू कर दी जिसका वीडियो वायरल हो गया है।

16 अक्टूबर 2018

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree