विनोद वर्मा की गिरफ्तारी के खिलाफ जुटे हुए पत्रकार, कहा- मिलनी चाहिए कानूनी मदद

ब्यूरो/ अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 28 Oct 2017 09:43 PM IST
Journalists demand release of arrested Vinod Verma's in a  protest meeting 
विज्ञापन
ख़बर सुनें
राजधानी के पत्रकारों ने वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी व उनके साथ अपराधियों के समान व्यवहार किए जाने की कड़ी निंदा की है। प्रेस क्लब में शनिवार को जुटे पत्रकारों ने कहा कि बिना जांच के ही उनके साथ अपराधियों जैसा सलूक किया जा रहा है। सभी ने एक स्वर में विनोद वर्मा की गिरफ्तारी को पत्रकारों पर हमला करार देते हुए कहा कि इसे रोका जाना चाहिए।
विज्ञापन


इतना ही नहीं उन्होंने गिरफ्तारी के पीछे राजनीतिक षडयंत्र की भी जांच की मांग की। कई पत्रकारों ने लीगल एड की जरूरतों पर जोर देने को ताकि पत्रकारों को ऐसे मामलों में कानूनी सहायता मिल सके।


पढ़ें- छत्तीसगढ़ सीडी कांड: रमन सरकार कराएगी CBI जांच, मंत्री मूणत के घर जश्न    

विनोद वर्मा की गिरफ्तारी के विरोध में प्रेस क्लब में आयोजित सभा में वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ की रमन सरकार बौखला गई है। पत्रकारों का दमन कर रही है। हम जानते हैं कि किसी तरह की सीडी नहीं पकड़ी गई है। जिस सीडी की बात हो रही है वह छत्तीसगढ़ में गांव-गांव के लोगों के पास है। विनोद वर्मा कांग्रेसी नहीं हैं, वे पत्रकार है।

वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी ने कहा कि उनके खिलाफ मंत्री ने शिकायत नहीं दर्ज कराई है। यदि विनोद वर्मा ने कोई अपराध किया है तो उसकी जांच की जानी चाहिए लेकिन जिस तरह से कार्रवाई की गई, स्पष्ट है कि उन्हें फंसाया गया है।  

वरिष्ठ पत्रकार एमके वेणु ने कहा कि पत्रकारों के लिए कानूनी सहायता की आवश्यकता है। विनोद वर्मा की गिरफ्तारी का विरोध होना चाहिए और इस पूरे मामले में हमें वरिष्ठ वकील से बात करनी चाहिए।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00