लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Education ›   Union Education Minister Ramesh Pokhriyal will announce the final decision on 12th board exams on 1st june

बड़ी खबर: 12वीं बोर्ड परीक्षा पर जल्द आएगा फैसला, शिक्षा मंत्रालय की तरफ से आई यह अहम जानकारी

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: वर्तिका तोलानी Updated Fri, 28 May 2021 03:04 PM IST
सार

केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय 1 जून को सुबह 11 बजे बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं को लेकर घोषणा करने वाले हैं।

रमेश पोखरियाल निशंक
रमेश पोखरियाल निशंक - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सुप्रीम कोर्ट में कक्षा बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने की मांग वाली याचिका को सोमवार तक स्थगित कर दिया गया है। वहीं अब शिक्षा मंत्रालय की ओर से बड़ी खबर सामने आ रही है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक 1 जून को बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में अपना फैसला सुना सकते हैं। रविवार को हुई उच्च स्तरीय बैठक में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ चर्चा और उनसे प्राप्त सुझावों पर विचार करने के पश्चात मंगलवार को सुबह 11 बजे शिक्षा मंत्री 12वीं बोर्ड परीक्षाओं को लेकर घोषणा करने वाले हैं। 

आगामी रविवार को प्रधानमंत्री के साथ शिक्षा मंत्री कर सकते हैं चर्चा

माना जा रहा है कि बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों से प्राप्त सुझावों पर शिक्षा मंत्री आगामी रविवार प्रधानमंत्री के साथ चर्चा कर सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट में बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने वाली याचिका पर सुनवाई 31 मई को होगी। ऐसे में 30 मई को उच्च स्तरीय बैठक का आयोजन किया जा सकता है। संभावना है कि इसमें अंतिम फैसला किया जाएगा। जिसकी घोषणा, 01 जून यानी मंगलवार को की जाएगी। 

मुख्य विषयों की होगी परीक्षा, राज्यों ने जताई सहमति

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार केंद्रीय मंत्रियों के साथ बैठक के बाद 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा परीक्षा आयोजित करने के पक्ष में प्रतिक्रिया दी गई है। वहीं दिल्ली, महाराष्ट्र, गोवा एवं अंडमान और निकोबार सरकार द्वारा छात्रों और शिक्षकों के लिए कोरोना टीके की मांग की गई है। परीक्षा पर सहमति जताने वाले 32 राज्यों में से 29 ने बैठक में प्रस्तावित बी-विकल्प का चयन किया है। यानी विद्यार्थियों को अपने ही विद्यालय में डेढ़ घंटे की ही परीक्षा देनी होगी। वहीं राजस्थान, त्रिपुरा और तेलंगाना ने विकल्प-ए  पर सहमति जताई है। यानी मौजूदा फॉर्मेट में ही केवल 19 मुख्य विषयों की ही परीक्षा आयोजित की जाएगी। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00