बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

बच्चों को Engineer बनाना खतरे से खाली नहीं, ये हैं प्रमुख कारण

amarujala.com- Presented by: अनंत पालीवाल Updated Tue, 23 May 2017 06:01 PM IST
विज्ञापन
college
college

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
एक समय में डॉक्टर, आईएस, आईपीएस, पीसीएस के साथ 12वीं के बाद बच्चों को इंजीनियर बनाना हर मां-बाप की उम्मीद हुआ करती थी।  लेकिन आज के समय में अगर बच्चे को इंजीनियर की पढ़ाई कराई जाती है तो उसको कोर्स खत्म करने के बाद बढ़िया नौकरी मिले, इस बात की गारंटी नहीं है। देश भर में जितने इंजीनियर्स इस वक्त बेरोजगार हैं, उतने और किसी पेशे में फिलहाल नहीं है। विश्व की जानी मानी कंसलटिंग फर्म केपीएमजी, मैकेंजी और Aspiring Minds ने अपनी अलग-अलग रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया है।
विज्ञापन


ये हैं प्रमुख कारण 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कई कंपनियों में ऑटोमेशन और नई तकनीकों के ज्यादा इस्तेमाल से अब बच्चों को इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराना फायदे का सौदा नहीं रहा है। कंपनियां जहां पहले से मौजूद अपने कर्मचारियों को निकाल रही हैं। यह छंटनी केवल सॉफ्टवेयर (आईटी) ब्रांच मे ही नहीं, बल्कि सिविल, इलेक्ट्रोनिक्स और मेकेनिकल ब्रांच में भी देखने को मिल रही है। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

केवल आईआईटी से पास ऑउट बच्चों को मिल रही है जॉब

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Education News in Hindi related to careers and job vacancy news, exam results, exams notifications in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Education and more Hindi News.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us