बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

बजट प्राइवेट स्कूलों के लिए अलग बोर्ड की मांग

ब्यूरो/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Mon, 05 Dec 2016 12:14 AM IST
विज्ञापन
स्कूल
स्कूल - फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
गैर सहायता प्राप्त बजट प्राइवेट स्कूलों ने अपने लिए अलग बोर्ड की मांग की है। रविवार को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर (आईआईसी) में ऐसे स्कूलों के अखिल भारतीय संगठन निसा के तत्वावधान में हुई बैठक में चर्चा के बाद यह मांग की गई।
विज्ञापन


बैठक में 22 राज्यों के 55 हजार स्कूलों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। बैठक में अलग बोर्ड के गठन के लिए अभियान चलाने पर सहमति बनी। साथ ही जल्द ही केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री से मिलकर अपनी मांग रखेंगे। इस अभियान में शिक्षामित्रों को शामिल किया जाएगा।


निसा के अध्यक्ष कुलभूषण शर्मा ने कहा कि सीबीएसई सहित मौजूदा सभी बोर्ड के नियम बड़े निजी स्कूलों अथवा सरकारी स्कूलों को ध्यान में रखकर बनाए गए हैं। मौजूदा बोर्ड के नियम एवं शर्तों का पालन करना बजट स्कूलों के लिए संभव नहीं है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X