बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

डीयू: एनसीवेब की छात्राओं ने सीखे रचनात्मक लेखन के गुर

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: पूजा त्रिपाठी Updated Mon, 28 Jun 2021 06:54 PM IST

सार

यह कार्यक्रम ऑनलाइन जूम प्लेटफॉर्म पर आयोजित हुआ। कार्यक्रम में माखन लाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो केजी सुरेश बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे।
विज्ञापन
फाइल फोटो
फाइल फोटो
ख़बर सुनें

विस्तार

दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉन कॉलेजिएट वूमेन एजुकेशन बोर्ड(एनसीवेब) ने छात्राओं के कौशलों का विकास करने के लिए रचनात्मक लेखन के गुर सिखाए। इसके लिए एनसीवेब की ओर से हिंदी-अंग्रेजी माध्यम से ऑनलाइन रचनात्मक लेखन की कार्यशाला आयोजित की गई थी। जिसका समापन शनिवार देर शाम हुआ। इस कार्यशाला में हिंदी व अंग्रेजी दोनों माध्यमों के लिए तीन-तीन छात्राओं को पुरस्कार दिए गए व दो-दो छात्राओं को प्रोत्सहान पुरस्कार दिए गए। 
विज्ञापन


यह कार्यक्रम ऑनलाइन जूम प्लेटफॉर्म पर आयोजित हुआ। कार्यक्रम में माखन लाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो केजी सुरेश बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे। प्रसिद्ध लेखिका व सामाजिक कार्यकर्ता विशिष्ट अतिथि नयना सहस्त्रबुद्धे, डीन स्टूडेंट वेलफेयर व एनसीवेब चेयरमैन प्रो राजीव गुप्ता, एनसीवेब की निदेशक डॉ गीता भट्ट उपस्थित रही।


इस मौके पर प्रो केजी सुरेश ने कहा कि व्यक्ति को सदैव अध्ययनशील रहना चाहिए।   साथ ही प्रो सुरेश ने कहा कि देश की संस्कृति, सभ्यता व मानव साइकोलॉजी को समझने के लिए अधिक से अधिक लोगों से वार्तालाप व यात्रा करना आवश्यक है। एनसीवेब उपनिदेशक डॉ उमाशंकर ने कहा कि रचनात्मकता का कभी समापन नहीं होता, यह कार्यशाला प्रेरणा स्रोत बनकर हम सभी को प्रोत्साहित करेगी। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us