विज्ञापन
विज्ञापन

अच्छी खबर: अब 12वीं के बाद शिक्षक बनने की राह खुली, दो नए पाठ्यक्रम होंगे शुरू

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Updated Mon, 15 Jul 2019 08:32 AM IST
Youth Will able to become teachers now after pass 12th class in uttarakhand 
- फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें
उत्तराखंड में 12वीं के बाद टीचर बनने के कोर्स की राह खुल गई है। कॉलेज अब इस कोर्स की मान्यता के लिए एनसीटीई में आवेदन कर सकते हैं। अमर उजाला ने 28 जून के अंक में प्रमुखता से यह मुद्दा उठाया था। इसके बाद सरकार ने नए कोर्स की मान्यता पर रोक हटा दी है।
विज्ञापन
राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने इस साल से 12वीं के बाद दो नए कोर्स शुरू करने की घोषणा की है। नए इंटिग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) कोर्स 12वीं के बाद किए जाएंगे, जिन्हें करने के बाद प्राइमरी और अपर प्राइमरी में टीचर बन सकेंगे।

सरकार की अपर प्राइमरी स्तर तक जो भी शिक्षक भर्ती होगी, उनमें यह कोर्स चलेंगे। इस साल मान्यता की प्रक्रिया शुरू करने के बाद एनसीटीई सत्र 2020-21 से इस कोर्स का संचालन देशभर में कराएगी।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

'अभिरुचि' एक नई पहल जो बना रही है छात्रों का भविष्य
Invertis university

'अभिरुचि' एक नई पहल जो बना रही है छात्रों का भविष्य

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 22/ जुलाई/2019
Astrology

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 22/ जुलाई/2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Dehradun

उत्तराखंड में बिना यूनिफॉर्म और किताबों के पढ़ रहे 2 लाख छात्र, विभागीय जांच में खुली पोल

मध्य शिक्षा सत्र के बावजूद उत्तराखंड के  शिक्षा विभाग में अब तक तीस फीसदी लगभग दो लाख बच्चों को किताबें व ड्रेस नहीं मिल पाई है।

19 जुलाई 2019

विज्ञापन

जब पेरिस में रोमांस करने की हुई बात, तब तारा सुतारिया ने सुनाई अपनी सौगात

फिल्म स्टूडेंट ऑफ द इयर के फ्लॉप होने के बाद भी तारा सुतारिया का करियर बुलंदियों पर है। बड़े-बड़े ब्रांड्स उन्हें अपना चेहरा बनाना चाहते हैं।

19 जुलाई 2019

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree