विज्ञापन
विज्ञापन

खुशखबरी: हजारों छात्रों को यूजीसी ने दी बड़ी राहत, फिर कर सकेंगे यूओयू में बंद हुए 75 कोर्स

न्यूज डेस्क/अमर उजाला, देहरादून Updated Tue, 02 Oct 2018 09:31 AM IST
student
student - फोटो : demo pic
ख़बर सुनें
उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में प्रथम वर्ष के दाखिलों की राह खुल गई है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने प्रथम वर्ष के जिन 75 कोर्स की मान्यता खत्म कर दी थी, उनमें अधिकतर में दो साल तक सशर्त दाखिलों पर सहमति दे दी है। तीन अक्टूबर को विवि के सभी मान्य कोर्स की सूची यूजीसी जारी करेगा। इसके बाद दाखिले शुरू हो जाएंगे।
विज्ञापन
यूजीसी ने इस साल उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में मानकों को अनुपालन नहीं होने के चलते 75 कोर्स की मान्यता खत्म कर दी थी। इसमें कुछ कोर्स को छोड़कर सभी यूजी और पीजी प्रथम वर्ष के कोर्स शामिल थे।

अचानक मान्यता चली जाने की वजह से 40 हजार से ज्यादा छात्र प्रथम वर्ष में दाखिले से वंचित रह गए थे। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय में इस संबंध में वार्ता की।

उधर, यूजीसी ने इस मसले पर बैठक की। बैठक में विवि से पक्ष जाना गया। दो साल के भीतर विवि को सभी मानक पूरे करते हुए नैक का एक्रिडिएशन लेना होगा। फिलहाल दो साल के लिए मुक्त विवि को राहत मिली है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

20 अक्टूबर हुई दाखिलों की अंतिम तिथि

विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Dehradun

उत्तराखंड: प्रदेश में खुलेंगे पांच नए केंद्रीय विद्यालय, एचआरडी मंत्री निशंक ने दिए निर्देश

प्रदेश में जल्द ही पांच नए केंद्रीय विद्यालय अस्तित्व में आएंगे।

16 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय और हेमा मालिनी पर दिया बेतुका बयान

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने सड़कों के बहाने कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा सांसद हेमा मालिनी को लेकर बेतुका बयान दिया है।

15 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree