विज्ञापन
विज्ञापन

लक्ष्मण ने उड़ेला दर्द, धोनी करते हैं मनमानी

चेन्नई/इंटरनेट डेस्क Updated Sun, 24 Feb 2013 11:52 AM IST
vvs laxman criticises ms dhoni
ख़बर सुनें
पूर्व दिग्गज खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण ने टीम इंडिया के कप्तान एमएस धोनी पर सीनियर खिलाड़ियों की उपेक्षा करने का आरोप लगाया है। लक्ष्मण ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी टेस्ट मैच में धोनी सीनियर हरभजन सिंह के बजाय रविंद्र जडेजा को ज्यादा तवज्जो देते दिखे।
विज्ञापन
पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि मैच के पहले दिन चायकाल से करीब 20 मिनट पहले जब क्लार्क जमने की कोशिश में थे तो धोनी ने हरभजन से गेंद करवाई थी। इसके बाद 51 ओवर के बाद मैच के दूसरे दिन हरभजन को गेंद थमाई गई। माइकल क्लार्क और पीटर सिडल की जोड़ी को तोड़ने के लिए हरभजन के बजाय रविंद्र जडेजा पर विश्वास जताया गया। धोनी के इस फैसले से साफ पता चलता है कि उनका सीनियर खिलाड़ियों में ज्यादा विश्वास नहीं है। उल्लेखनीय है कि मैच के दूसरे दिन हरभजन ने पीटर सिडल का विकेट लिया तो अगले ओवर में उनसे गेंदबाजी नहीं कराई गई।

लक्ष्मण ने कहा कि हरभजन 100वां टेस्ट खेल रहे हैं। वे दुनिया के कुछ खास स्पिनरों में से एक हैं। उन्होंने देश को कई अहम मैच में जीत दिलाई है। अब जब वे लंबे अंतराल के बाद दोबारा टीम में लौटे हैं तो एक कप्तान के तौर पर धोनी को उनपर विश्वास जताना चाहिए। कप्तान से विश्वास नहीं मिलने पर सीनियर खिलाड़ियों का मनोबल टूटता है। उनका आत्मविश्वास बढ़ने के बजाय घटता है।

वेरी-वेरी स्पेशल के नाम से फेमस लक्ष्मण ने कहा कि धोनी को हरभजन की उपयोगिता को समझना होगा। उन्हें उनमें आत्मविश्वास पैदा करना चाहिए, क्योंकि भज्जी एक ऐसे गेंदबाज हैं जो लय में लौटते ही अकेले दम पर मैच निकालने की काबलियत रखते हैं। गौरतलब है कि हरभजन सिंह ने पहली पारी में 25 ओवरों में 87 रन देकर 1 विकेट लिए, जबकि रवींद्र जडेजा ने 36 ओवरों में 71 रन खर्च कर 2 विकेट हासिल किए।

पहले भी लक्ष्मण उठा चुके हैं धोनी पर सवाल
पिछले साल न्यूजीलैंड सीरीज से ठीक पहले लक्ष्मण ने संन्यास की घोषण करके सबको चौंका दिया था। इसके बाद लक्ष्मण ने मीडिया से कहा कि वह क्रिकेट से संन्यास के बारे में धोनी को बता नहीं सके, क्योंकि उनसे संपर्क करना काफी मुश्किल होता है। दोनों खिलाड़ियों के बीच आशंकित विवाद को हवा तब मिल गई जब घर पर आयोजित डिनर में लक्ष्मण ने कप्तान धोनी को नहीं बुलाया।
विज्ञापन

Recommended

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण
Niine

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Cricket News

बांग्लादेश के खिलाफ टीम इंडिया का एलान कल, पंत के लिए सिरदर्द बना यह विकेटकीपर

भारतीय चयन समिति जब बांग्लादेश के खिलाफ आगामी सीरीज के लिए गुरुवार को टीम चुनने के लिए बैठक करेगी तो कप्तान कोहली के कार्यभार का मुद्दा चर्चा का विषय होगा।

23 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

दबंग 3 का ट्रेलर लॉन्च, अपनी शादी को लेकर सलमान खान ने दिया ये जवाब

सलमान खान की फिल्म दबंग 3 का ट्रेलर लांच हो गया। मुंबई में हुए एक कार्यक्रम में 'चुलबुल पांडे' फिल्म की पूरी टीम के साथ पहुंचे। देखिए रिपोर्ट

23 अक्टूबर 2019

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree