विज्ञापन

किस दिशा में भारतीय सिनेमा : यह हमारे लिए गर्व की बात है या शर्म की

गौतम चटर्जी Updated Sun, 28 Jul 2019 01:32 AM IST
विज्ञापन
indian cinema
indian cinema
ख़बर सुनें
क्या मूल्य स्खलन का दौर अब समाप्तप्राय है? भारतीय संस्कृति के मूल्यों को कला के माध्यम से पूरे विश्व तक ले जाने की हमारी समृद्ध परंपरा वैदिक युग से है। भरत ने भारत से विश्व को रस का विचार पहली बार दिया, तो कालिदास समेत नाट्यकवियों ने दृश्यकाव्य के अक्षुण्ण उदाहरण सामने रखे। प्रथम विश्वयुद्ध के युद्धकामी परिप्रेक्ष्य में रवींद्रनाथ ने गीतांजलि प्रस्तुत किया, तो सत्यजित राय पथेर पांचाली लेकर कान के अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह तक गए। परंपरा थमी नहीं। 
विज्ञापन
आधुनिक दौर में गिरीश कारनाड पहले भारतीय नाटककार हुए, जब उन्होंने युनेस्को द्वारा प्रतिवर्ष मनाए जाने वाले विश्व रंगमंच दिवस की पूर्वसंध्या पर दुनिया के रंगकर्मियों के लिए भारत की ओर से संदेश दिया। इधर मूल्यसंवहन की यह परंपरा स्खलित दिखती है। जैसे इस बार कान फिल्म समारोह में अपने देश से एक भी फिल्म नहीं चुनी गई, जबकि कुछ ग्लैमरस अभिनेत्रियों को रेड कार्पेट पर महज चलने के लिए खर्चीले ढंग से आमंत्रित किया गया था। 

यह हमारे लिए गर्व की बात है या शर्म की, यह अस्पष्ट नहीं है। क्या हम अब पेन ऐंड ग्लोरी (स्पेन), ला मिजरेबल (फ्रांस) या सॉरी वी मिस्ड यू (ब्रिटेन) जैसी फिल्म भी नहीं बना सकते, जिन्हें इस बार इस महत्वपूर्ण फिल्म समारोह के लिए चुना गया था? आखिर यह स्खलन किन स्तरों पर हुआ है? या इसे हमें ऐसे देखना चाहिए कि मूल्य स्खलन का दौर अब समाप्तप्राय है और अब हम संस्कृति की दृष्टि से एक विकसित देश में रूपांतरित हो रहे हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us