लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Columns ›   Blog ›   history of world cinema, walt disney american film producer and a visionary leader

वॉल्ट डिज्नी जन्मदिवस विशेष: अमेरिकन एनिमेटर और विजनरी लीडर

Dr. Vijay Sharma डॉ. विजय शर्मा
Updated Mon, 05 Dec 2022 03:57 PM IST
वॉल्ट डिज्नी एक विजनरी लीडर
वॉल्ट डिज्नी एक विजनरी लीडर - फोटो : Twitter
विज्ञापन

5 दिसम्बर 1901 को जन्मे वॉल्ट डिज्नी एक विजनरी लीडर थे। उन्होंने दुनिया को स्वस्थ मनोरंजन प्रदान करने का स्वप्न देखा और इसे साकार भी किया। विजन का अर्थ है भविष्य को आकार देना। विजन का अर्थ है संस्था के लिए एक वास्तविक, विश्वसनीय और आकर्षक भविष्य। विजन साइनपोस्ट है, जहां संस्था को पहुंचना होता है। विजनरी लीडर स्वप्न देखता है और उसे वास्तविकता में परिणत करता है। एक स्वप्न जो लीडर साथियों के सहयोग से साकार करना चाहता है।



जब आप कोई संस्था बनाते हैं, तो उसे किसी खास ढंग की बनाना चाहते हैं, उसे किसी खास दिशा में ले जाना चाहते हैं। संस्था को दशा-दिशा देने में लीडर की प्रमुख भूमिका होती है। जब यह दिशा-दशा संप्रेषित की जाती है तो मुखिया के साथ-साथ संस्था के सारे लोगों का  यह साझा उद्देश्य बन जाता है। लीडर का उद्देश्य होता है अपने उद्देश्य को टीम का उद्देश्य बना देना। लीडर का विजन साथियों को काम के लिए, उद्देश्य प्राप्ति के लिए उकसाता है।


अपनी प्रसिद्ध पुस्तक ‘विजनरी लीडरशिप’ में बर्ट नैनस कहते हैं, ऑर्गनाइजेशन के लिए एक वास्तविक, विश्वसनीय और आकर्षक भविष्य ही विजन है। विजन का अर्थ है भविष्य के लिए एक मॉडल की इच्छा होना। विजनरी लीडर उद्देश्य को स्पष्ट रूप से प्रस्तुत करता है ताकि भविष्य बेहतर, ज्यादा सफ़ल और ज्यादा काम्य हो जाए।


डिज्नीलैंड का सफल स्वप्न

वॉल्ट डिज्नी ने स्वप्न देखा, उसे शब्दों में व्यक्त किया। उसने कहा, डिज्नीलैंड एक ऐसा स्थान होगा जहां लोग प्रसन्नता और ज्ञान पा सकेंगे। जहां बच्चे और उनके अभिभावक एक साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकेंगे। जहां पुरानी पीढ़ी अपने गुजरे जमाने को फिर से पा सकेगी, नई पीढ़ी आने वाले समय की चुनौतियों का स्वाद ले सकेगी। सबके देखने-समझने के लिए यहां प्रकृति और मानव निर्मित अजूबे होंगे। यह आदर्शों-स्वप्नों तथा ठोस तथ्यों कर आधारित होगा और इन्हीं आदर्शों, स्वप्नों तथा ठोस तथ्यों को समर्पित होगा।


विजनरी लीडर मौलिकता के साथ नवीनीकरण करता है, अपने विजन की वकालत करने वाला होता है। वह लोगों में अपेक्षाएं उत्पन्न करता है। वॉल्ट डिज्नी एक परिवर्तनकारी एजेंट था, परिवर्तन का वाहक। उसने अपने विजन से अमेरिका और विश्व के मनोरंजन उद्योग में क्रांतिकारी परिवर्तन ला दिया। उसने द्विअर्थी, सेक्स और बेहूदा मनोरंजन के स्थान पर संपूर्ण परिवार के लिए स्वस्थ मनोरंजन की परम्परा डाली। उसका कहना था, ‘डिज्नीलैंड पैसों के लिए नहीं, प्यार के लिए किया गया शो है।’

उद्देश्य पूर्ति के लिए उसने अपने साथ काम करने वालों को सदैव ऊर्जा से भरा रखा। उन्हें इस बात की प्रतीति कराई कि उनके बचे रहने के लिए इस स्वप्न का महत्व है, इससे उनका विकास होगा, वे अपने सर्वोत्तम गुणों का प्रदर्शन कर सकेंगे। वह लक्ष्य प्राप्ति के लिए अपने साथ काम करने वालों को संयोजित कर सका, उन्हें अपने लक्ष्य से जोड़ सका। उसने ‘स्नो व्हाइट’ बना कर दर्शकों में स्वस्थ मनोरंजन की अपेक्षाएं पैदा कर दीं। दर्शक उससे बेहतर फ़िल्मों की अपेक्षा करने लगे और दर्शकों की आशा से उसे चुनौती मिली, साथ ही बेहतर काम की प्रेरणा भी।
विज्ञापन

‘डिज्नीलैंड पार्क’ से उसने जनता की अपेक्षाओं को नई दिशा दी। वह अपने वंडरलैंड में लिबर्टी स्ट्रीट, एडीसन स्कॉयर जोड़ना चाहता था जिससे अमेरिका के उन्नीसवीं सदी की वास्तुकला का प्रदर्शन होगा। तकनीकि और विज्ञान की सहायता से वह इसे करना चाहता था अत: उसने जनरल इलेक्ट्रिकल से इसे प्रायोजित करवाने की बात सोची और इसे किया।

वॉल्ट डिज्नी
वॉल्ट डिज्नी - फोटो : Twitter

विजनरी लीडर के रूप में वॉल्ट डिज्नी

विजनरी लीडर संगठन को मजबूत बनाता है ताकि वह अपने सदस्यों तथा वृहतर समाज को अपना योगदान दे सके। वॉल्ट डिज्नी ने पहले हाइपीरियन खड़ा किया, फ़िर बरबैंक बनाया। विजनरी लीडर भविष्य को संवारने की शक्ति रखता है। इस रूप में उसने भविष्य को क्रमबद्ध रूप में सोचा, उसके अनुकूल योजना बनाई और योजना को कार्यरूप में ढ़ाला। उसने ‘डिज्नीलैंड’ का विचार साकार करने में पांच साल लगाए, तब जाकर ‘वेड एंटरप्राइजेज’ बनाया।

इस कंपनी का काम थीम पार्क की योजना को कार्यरूप में परिणत करना था। उसने अपने कुछ इमैजिनियर्स को इस काम कर लगाया, बैंक ऑफ अमेरिका से इसकी फ़ंडिंग कराई और एक बेजोड़ काम कर दिखाया।

सामान्य रूप से माना जाता है कि जो भी लोगों को अपना विजन बेचने की क्षमता रखता है, जो लोगों को अपने विजन के साथ जोड़ता है, वही विजनरी लीडर होता है, यह सही नहीं है, ऐसी सोच बहुत खतरनाक है। विजनरी लीडर समुदाय या संगठन के उत्कृष्ट मूल्यों को वाणी देता है। उसका विजन सटीक होता, मात्र अपील, लफ़्फ़ाजी और कल्पना नहीं। मूल्यों को स्थापित करने के लिए खूब अधिक सुनना, खूब विचार-विमर्श, संवाद, वार्तालाप आवश्यक है।

वॉल्ट डिज्नी निरंतर अपने मूल्यों के विषय में बातें करता था।
प्रड्यूसर डेव हैंड का कहना था कि वॉल्ट अपने विचारों की बातें करता था। जब-जब वह अपने सहयोगियों की बात सुनने से चूका, उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। वह अपनी बात मनवाने की कला जानता था, अत: निवेशकों को अपने यहां निवेश करने के लिए राजी करवा पाता था। टफ़-से-टफ़ बैंकर उसकी सहायता के लिए तैयार हो जाता था। बाजार में उसकी अच्छी साख थी। लोग उसके यहां निवेश को उत्सुक रहते थे।

लीडरशिप के लिए अधिकार होना आवश्यक है। दिशा निर्देशन के लिए, उत्तर देने से ज्यादा प्रभावशाली है प्रश्न पूछना। लोगों को समस्याओं के समक्ष खड़ा कर देना। उन्हें यथार्थ का भान कराना। अक्सर लोग कष्टकर काम सीखने से बचना चाहते हैं। लोग विभिन्न तरीकों से नई परिस्थितियों, परिवर्तनों का प्रतिरोध करते हैं। एक लीडर को इन प्रतिरोधों की जानकारी होनी चाहिए, न केवल जानकारी होनी चाहिए वरन इनसे निपटना भी आना चाहिए।

वॉल्ट डिज्नी का अपने संगठन में पूरा दबदबा था। निर्विरोध वही प्रमुख कर्ता-धर्ता था। उसके स्टूडियो से जो भी उत्पादित होता उसकी नजर से स्वीकृत हो कर ही निकलता था। अत: कुछ लोग उसे तानाशाह भी कहते थे। 

उसने अपने घर के पिछवाड़े ‘कैरोलवुड पैसिफ़िक रेलरोड’ को आगे चल कर डिज्नीलैंड का एक अहम हिस्सा बनाया। वह एक-एक कर इसमें काफ़ी कुछ जोड़ता चला गया। इसके लिए विशेष टीवी प्रोग्राम ‘वन आवर इन वंडरलैंड’ बनाया, एबीसी के साथ ‘डिज्नीलैंड प्रोग्राम’ बनाया और चलाया। यही बाद में रंगीन हो कर एनबीसी से प्रसारित होने लगा। कुछ आगे चल कर उसने ‘डिज्नी वर्ल्ड’ का सपना देखा और ‘एक्सपेरिमेंटल प्रोटोटाइप सिटी ऑफ़ टुमारो’ की कल्पना की। 
 
विजनरी लीडर सृजनात्मक होता है। वॉल्ट डिज्नी के भाई रॉय का कहना था, वॉल्ट स्वभाव से ही किसी काम को दोहराना नहीं चाहता है। वह सदा कुछ नया करने की कोशिश में लगा रहता है। निरंतर मेहनत करने वाला। सृजनात्मक व्यक्ति सृजन करता है और उस सृजन को उन लोगों में बांट कर प्रसन्न होता है जो उसका महत्व जानते हैं, उस कृति की प्रशंसा कर सकते हैं।

वॉल्ट डिज्नी जैसे एकाध सृजनशील व्यक्ति सफ़ल उद्योगपति भी होते हैं। अक्सर लोगों के पास महत्वाकांक्षा होती हैं, इंट्यूशन नहीं होता है। वॉल्ट डिज्नी के पास दोनों था।


डिस्क्लेमर (अस्वीकरण): यह लेखक के निजी विचार हैं। आलेख में शामिल सूचना और तथ्यों की सटीकता, संपूर्णता के लिए अमर उजाला उत्तरदायी नहीं है। अपने विचार हमें [email protected] पर भेज सकते हैं। लेख के साथ संक्षिप्त परिचय और फोटो भी संलग्न करें।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00