भाजपा ने मैदान छोड़ा, अब खालिद-सिद्धू व गोयल ग्रुप में सीधी टक्कर... ये बनेंगे जीत के आधार

अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Tue, 15 Sep 2020 02:59 PM IST
विज्ञापन
पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़
पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
पंजाब यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन (पुटा) के चुनाव में भाजपा ने मैदान छोड़ दिया है। सचिव व कोषाध्यक्ष पद के लिए किए गए नामांकन को सोमवार को वापस ले लिया। अब भाजपा खालिद ग्रुप के साथ मिल गई है। सूत्रों का कहना है कि भाजपा के पास महज 70 वोट हैं। ऐसे में अपने दम पर चुनाव जीतना आसान नहीं है। हालांकि इनके यह वोट जीत-हार का आधार बनेंगे।
विज्ञापन

अब चुनावी रण में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव पद के लिए दो-दो उम्मीदवार बचे हैं। एक उम्मीदवार खालिद-सिद्धू ग्रुप से है तो दूसरा गोयल ग्रुप (कांग्रेस) से। नाम वापसी के बाद पूरी तरह माहौल चुनावी हो गया है। वोटों की जोड़-तोड़ शुरू हो गई है। सूत्रों का तो यह भी कहना है कि पुटा के चुनाव भी टल सकते हैं, क्योंकि पीयू के कुछ विभागों में कोरोना के केस बढ़ गए हैं। कुछ शिक्षक भी चपेट में आए हैं। कुछ शिक्षक कोरोना को आधार बनाकर चुनाव टालने की बात कह रहे हैं। हालांकि चुनाव ऑनलाइन हुए तो फिर टालने की नौबत नहीं आएगी।
प्रो. खालिद व डॉ. मृत्युंजय में आमने आमने-सामने की टक्कर
अध्यक्ष पद के लिए ईवनिंग स्टडीज विभाग से प्रो. मोहम्मद खालिद व लाइब्रेरी विभाग से डॉ. मृत्युंजय कुमार मैदान में हैं। दोनों का अपना-अपना लंबा अनुभव है। एक शिक्षक समाज से आते हैं तो दूसरे लाइब्रेरी विभाग से। उपाध्यक्ष पद के लिए यूआईईटी से डॉ. अमित चौहान मैदान में बचे हैं। उनका मुकाबला लॉ विभाग की डॉ. सुपिंदर कौर से होगा। सचिव पद के लिए बॉटनी विभाग से प्रो. एमसी सिद्धू मैदान में हैं।

वही उनके विपक्ष में बायोकेमेस्ट्री विभाग से प्रो. अमरजीत सिंह नौरा मैदान में हैं। यह तीनों पद पुटा के लिए महत्वपूर्ण माने जाते हैं। सचिव पद के लिए भाजपा ने रविवार को नामांकन किया था, लेकिन सोमवार को डॉ. अरुण सिंह ठाकुर ने अपना नाम वापस ले लिया। अब मुकाबला कांटे का है, क्योंकि त्रिकोणीय मुकाबला कहीं नहीं बचा। ग्रुप चार से केशव मल्होत्रा व ग्रुप पांच से सुचा सिंह निर्विरोध चुनाव जीत गए हैं। यह कार्यकारी सदस्य कहलाएंगे।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

ये विभाग बनेंगे जीत का आधार

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us