फीस मामला... सीसीपीसीआर ने तलब किया तो सौपिंस स्कूल ने कहा- मैसेज गलती से चला गया

अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Fri, 31 Jul 2020 02:01 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
31 जुलाई तक फीस जमा कराने के आदेश जारी करने वाले सेक्टर-32 स्थित सौपिंस स्कूल ने अपनी गलती मान ली है। चंडीगढ़ कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स (सीसीपीसीआर) को दिए बयान में कहा है कि परिजनों को फीस जमा कराने का मैसेज गलती से चला गया था।
विज्ञापन

सौपिंस स्कूल ने हाल ही में स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए 31 जुलाई तक फीस जमा करवाने फरमान जारी किया था। फीस नहीं जमा कराने की स्थिति में स्कूल से निकलने की बात कही थी। इस फरमान को लेकर अभिभावकों की शिकायत पर वीरवार को सीसीपीसीआर चेयरसर्पन हरजिंदर कौर ने स्कूल के निदेशक और अभिभावकों को तलब किया था।
अपने जवाब में सौपिंस स्कूल प्रबंधक ने जो फरमान स्टूडेंट्स को जारी किया था, उसे वापस ले लिया। अपनी सफाई में स्कूल प्रबंधक ने कहा कि उनके द्वारा गलती ये यह मैसेज अभिभावकों को भेजा गया था जिसके लिए वह खेद प्रकट करते है। उसके अलावा स्कूल प्रबंधक ने सीसीपीसीआर के सामने कबूल किया कि वह स्टूडेंट्स पर फीस देने का कोई भी दवाब नहीं बना रहे है।
स्कूल प्रबंधक के जवाब से अभिभावकों की संतुष्टि के बाद मामले का निपटारा कर दिया गया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us