विज्ञापन

पीयू के बाद अब होशियारपुर गर्ल्स हॉस्टल को चाहिए 24 घंटे की आजादी, कनुप्रिया का विरोध प्रदर्शन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sun, 17 Mar 2019 12:57 PM IST
कनुप्रिया की अध्यक्षता में प्रदर्शन
कनुप्रिया की अध्यक्षता में प्रदर्शन
ख़बर सुनें
पीयू के गर्ल्स हॉस्टल की छात्राओं को 24 घंटे की आजादी दिलाने के बाद अब एसएफएस ने होशियापुर सर्वानंद गिरि क्षेत्रीय केंद्र के गर्ल्स हॉस्टल की छात्राओं के पक्ष में धरना प्रदर्शन किया। पीयू में छात्राओं ने नारेबाजी करते हुए कहा कि होशियापुर के हॉस्टल भी अब 24 घंटे खोले जाएं। इसको लेकर तीन घंटों तक जोरदार प्रदर्शन करने किया गया। इस दौरान मांगपत्र भी दिया गया।
विज्ञापन
विज्ञापन
पीयूसीएससी अध्यक्ष कनुप्रिया के नेतृत्व में विद्यार्थी पीयू एडमिन ब्लाक सुबह नौ बजे एकत्रित हुए। उसके बाद सभी ने प्रदर्शन के लिए मोर्चा संभाल लिया। जैसे ही सिंडिकेट की बैठक में जाने के लिए सदस्य निकले तो प्रदर्शन किया गया। साथ ही उन्हें मांग पत्र भी दिया। इस मौके पर कनुप्रिया ने कहा कि छात्र छात्राओं में कोई अंतर नहीं है। दोनों को बराबर का अधिकार है।

पीयू में जिस तरह छात्राओं को आजादी दी गई उसी तरह 24 घंटे होशियापुर केंद्र में भी गर्ल्स हॉस्टल खोले जाएं। वहां की छात्राएं जो प्रदर्शन कर रही हैं, उन्हें पूरा समर्थन है। इसके लिए वह संघर्ष करते रहेंगे। इस दौरान उन्होंने गर्ल्स हॉस्टल नंबर दस का शुल्क कम करने की मांग भी उठाई। उन्होंने बताया कि एक साल से शुल्क कम करने की मांग उठाई जा रही है, लेकिन पीयू प्रशासन इसे गंभीरता से नहीं ले रहा है।

इसके लिए भी आंदोलन चलता रहेगा। इसके अलावा एक्स ऑफिसियो का सदस्य अध्यक्ष व महासचिव को बनाने की भी मांग उठाई गई। इसमें कहा गया कि पहले भी प्रदर्शन के दौरान मांग उठाई गई, मात्र आश्वासन के कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस दौरान छात्रों ने घंटों हंगामा किया। होशियापुर की छात्राओं ने भी नारेबाजी की।

पुलिस ने संभाल ली स्थिति.. वरना एबीवीपी व एसएफएस में हो जाता बवाल
एबीवीपी व एसएफएस ने शनिवार को एडमिन ब्लॉक पर प्रदर्शन किया। दोनों संगठन नारेबाजी कर रहे थे। अचानक एक संगठन की ओर से गलत नारेबाजी की गई तो तनाव की स्थिति आ गई। हालांकि पुलिस ने मामला संभाल लिया अन्यथा बवाल हो जाता। ऐसी स्थिति पहली बार आई है कि दोनों संगठन आमने सामने प्रदर्शन कर रहे थे। साथ ही गर्ल्स हॉस्टल दस का शुल्क कम करनी की मांग दोनों संगठनों की थी।

Recommended

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से
ज्योतिष समाधान

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पायें हमारे अनुभवी ज्योतिषिचर्या से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Shimla

जेई भर्ती में 130 उम्मीदवारों का मूल्यांकन परीक्षा के लिए चयन

हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग ने पोस्ट कोड 662 के तहत जेई भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है।

20 मार्च 2019

विज्ञापन

बीजेपी ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, यूपी में इन सांसदों को नहीं मिला टिकट

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के लिए 184 उम्मीदवारों की लिस्ट का एलान कर दिया है। इस लिस्ट में पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह समेत कई बड़े नेताओं के नाम हैं। देखिए ये रिपोर्ट।

21 मार्च 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree