बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

दो माह में करवाना होगा सीनेट चुनाव : हाईकोर्ट ने दिया निर्देश, पीयू की मंशा पर उठाए सवाल, हर दलील को किया खारिज  

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Published by: निवेदिता वर्मा Updated Fri, 02 Apr 2021 11:47 AM IST

सार

  • हाईकोर्ट ने कहा, पीयू में हो रहा वन मैन शो..दो माह में सीनेट चुनाव कराए जाएं 
  • सीनेट और सिंडीकेट का न होना लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए ठीक नहीं
  • कोई इतना अच्छा भी नहीं होता कि असीमित शक्ति के साथ उस पर विश्वास किया जा सके
विज्ञापन
हाईकोर्ट ने पीयू को दो माह में सीनेट चुनाव करवाने का आदेश दिया।
हाईकोर्ट ने पीयू को दो माह में सीनेट चुनाव करवाने का आदेश दिया। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी के सीनेट चुनाव को लेकर चल रहे विवाद का गुरुवार को हाईकोर्ट ने निपटारा कर दिया। हाईकोर्ट ने पीयू को दो माह के भीतर सीनेट चुनाव संपन्न करवाने का आदेश जारी कर दिया है। आदेश की शुरुआत करते हुए जस्टिस फतेहदीप सिंह ने कहा कि जैसे शराब मजबूत आदमी को भी मदहोश कर देती है, वैसे ही शक्ति अच्छे व्यक्ति को भी खुमार चढ़ा देती है। कोई भी व्यक्ति इतना अच्छा और बुद्धिमान नहीं होता कि असीमित शक्ति के साथ उस पर विश्वास किया जा सके। 
विज्ञापन


पीयू के सीनेटर प्रोफेसर केशव मल्होत्रा व अन्य ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर बताया था कि सीनेट का कार्यकाल खत्म होने के बावजूद चुनाव नहीं करवाया जा रहा है। पीयू ने नवंबर 2019 में सीनेट के चुनाव का कार्यक्रम जारी किया था। जून में चुनाव के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति का नोटिस भी जारी कर दिया गया था। अगस्त में कोरोना संक्रमण के चलते चंडीगढ़ के सीनियर स्टैंडिंग काउंसिल ने चुनाव न करवाने की राय दी। इसके बाद 17 अक्तूबर को वीसी ने चुनाव को अनिश्चित काल के लिए स्थगित करने का आदेश जारी कर दिया था। 



याचिका पर सभी पक्षों को सुनने के बाद हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। गुरुवार को अपना फैसला सुनाते हुए हाईकोर्ट ने कहा कि पीयू जैसे अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त संस्थान में चुनाव न होने के चलते व्यवस्था खराब हो रही है। इससे पीयू की ख्याति को धब्बा लग सकता है। इस मामले में जिस प्रकार से चुनाव करवाने में देरी करवाई गई है, वह यूनिवर्सिटी की मंशा पर सवाल खड़ा करता है। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

हर दलील पर उठाए सवाल

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X