Phd कर रहे युवाओं के लिए बहुत बड़ी खबर, अनदेखी की तो पछताएंगे

ब्यूरो/अमर उजाला, महेंद्रगढ़(हरियाणा) Updated Thu, 07 Dec 2017 04:11 PM IST
दाखिला
दाखिला - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
पीएचडी कर रहे युवाओं के लिए बहुत बड़ी खबर है, अनदेखी की तो पछताएंगे। इसलिए जरूरी है कि इस एक नियम पर ध्यान दिया जाए। दरअसल केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह का कहना है कि थीसिस की चोरी करके डॉक्टर ऑफ फिलासफी (पीएचडी) करना आसान नहीं होगा। यदि किसी को पीएचडी करनी है तो उसे मौलिक शोध करना होगा।
थीसिस की चोरी रोकने के लिए एक सॉफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) के 40 प्रतिशत कॉलेज फ्रॉड हैं, जो एक कमरे में चलते हैं या कागजों में। सरकार ने एक हजार कॉलेज बंद किये हैं और एक हजार बंद करने की तैयारी में है।

केंद्रीय राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय में आयोजित उच्च शिक्षा नेतृत्व कार्यक्रम के समापन के बाद पत्रकारों से कहा कि अभी एक विद्यार्थी की रिसर्च कॉपी दूसरे विद्यार्थी को 15-15 हजार रुपये में बेची जा रही है। चोरी रोकने वाले सॉफ्टवेयर के आने से न केवल पारदर्शिता आएगी, बल्कि मेहनती लोग ही आगे बढ़ पाएंगे।

उन्होंने कहा कि सरकार नई शिक्षा नीति की व्यवस्था के लिए मसौदा तैयार कर रही है। इसके लिए प्रो. कस्तुरी रंगा की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गई है। उम्मीद है कि वह 31 दिसंबर तक मसौदा सौंप देंगे। नई शिक्षा नीति पांच स्तंभ पर आधारित होगी। हमारे बच्चे पढ़ना चाहते हैं लेकिन पर्याप्त कॉलेज और विश्वविद्यालय नहीं हैं।

अभी ऐसे भी राज्य हैं जो हायर एजूकेशन में पीछे हैं उनकी तरफ ध्यान देने, शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने, गरीब से गरीब बच्चों को कम कीमत पर शिक्षा प्रदान करने आदि की योजना बनाई जा रही है। इस मौके पर हकेंविवि के वीसी आरसी कुहाड़, यूजीसी के पूर्व चेयरमैन वेदप्रकाश सहित विवि का स्टाफ उपस्थित था।

RELATED

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

CBSE 12वीं के नतीजे घोषित, नोएडा गर्ल मेघना श्रीवास्तव ने किया ऑल इंडिया टॉप

सीबीएसई के 10 रीजन (दिल्ली, पंचकूला, इलाहाबाद, गुवाहाटी, पटना, भुवनेश्वर, अजमेर, देहरादून, तिरुवनंतपुरम और चैन्नई) के नतीजे दोपहर 12 बजे के बाद घोषित हो गए हैं।

26 मई 2018

Related Videos

VIDEO: यहां पैदा हुआ प्लास्टिक का बच्चा! वजह कर देगी हैरान

यूपी के श्रावस्ती में एक बच्चे के जन्म से सभी हैरान हैं, यहां तक की डॉक्टर भी। क्योंकि बच्चे की स्किन प्लास्टिक की है।

27 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कि कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स और सोशल मीडिया साइट्स के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज़ नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज़ हटा सकते हैं और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डेटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy और Privacy Policy के बारे में और पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen