बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

क्या नए साल में महंगा हो जाएगा यूपीआई ट्रांजेक्शन, अन्य एप्स से भुगतान पर लगेगा अतिरिक्त चार्ज

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Tanuja Yadav Updated Sun, 06 Dec 2020 08:56 AM IST
विज्ञापन
upi
upi
ख़बर सुनें
पिछले कुछ दिनों से ऐसी खबरें आ रही हैं कि नए साल यानी एक जनवरी 2020 से यूपीआई ट्रांजेक्शन महंगा हो सकता है। यह भी कहा जा रहा है कि यूपीआई के जरिए किसी को भुगतान करने पर ग्राहक को अतिरिक्त शुल्क देना हो सकता है। यानी अगर कोई व्यक्ति थर्ड पार्टी एप्स का इस्तेमाल करके यूपीआई के जरिए ऑनलाइन पेमेंट करता है तो उसको इसके लिए शुल्क चुकाना होगा। लेकिन यह खबर गलत है।
विज्ञापन


नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का कहना है कि उसकी ओर से यूपीआई ट्रांजैक्शन को महंगा नहीं किया गया है। इसके साथ ही थर्ड पार्टी एप्स के जरिए किए जाने वाले भुगतान पर कोई अतिरिक्त शुल्क लगाया है। एनपीसीआई ने कहा कि सोशल मीडिया पर शुल्क बढ़ाने की जो भी खबरें प्रसारित हो रही हैं वह सभी गलत हैं।





नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने थर्ड पार्टी एप की सेवा देने वाली कंपनियों के भुगतान पर एक जनवरी, 2021 से 30 फीसद कैप लगाने का फैसला लिया है। इस नियम के लागू होने के बाद गूगल पे, अमेजन पे और फोनपे जैसे थर्ड पार्टी ऐप प्रोवाइडर्स पर असर पड़ सकता है।

एनपीसीआई ने यह फैसला भविष्य में किसी भी थर्ड पार्टी ऐप्स के एकाधिकार रोकने और उसे अपने यूजर बेस के हिसाब से मिलने वाले विशेष फायदे से रोकने के लिए किया है। एनपीसीआई के इस फैसले से यूपीआई ट्रांजेक्शन में किसी भी एक पेमेंट ऐप का एकाधिकार नहीं होगा। 30 फीसदी कैप तय करने से अब गूगल पे, अमेजन पे, फोनपे जैसी कंपनियां यूपीआई के तहत होने वाले कुल ट्रांजेक्शन में अधिकतम 30 फीसदी का ही प्रबंध कर पाएंगी।

यूपीआई क्या है
यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस या यूपीआई एक रियल टाइम भुगतान प्रणाली है। यह मोबाइल प्लेटफॉर्म के माध्यम से बैंक अकाउंट में पैसे तुरंत ट्रांसफर कर सकता है। यूपीआई के माध्यम से आप एक बैंक अकाउंट को कई यूपीआई ऐप से लिंक कर सकते हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us