भारतीय कंपनी की साइकिल चलाते दिखे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री, दिया यह संदेश

ऑटो डेस्क, अमर उजाला Updated Fri, 31 Jul 2020 09:15 PM IST
विज्ञापन
Boris Johnson
Boris Johnson - फोटो : Twitter/@BorisJohnson

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक साइकिल के साथ अपनी तस्वीर को सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है। खास बात यह है कि यह साइकिल भारतीय कंपनी हीरो कंपनी की है, जिसे ब्रिटेन में बनाया गया है। बता दें कि बोरिस जॉनसन को साइकिल चलाने का शौक है। पीएम जॉनसन को इंग्लैंड के नॉटिंघम में हीरो वाइकिंग प्रो बाइक पर सवार देखा गया। 
विज्ञापन

जॉनसन ने तस्वीर को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, "स्वास्थ्य और पर्यावरण से संबंधित चुनौतियों से आए दिन  सामना करने में पैदल चलने और साइकिल चलाने की एक अहम भूमिका है।" उन्होंने ट्वीट में आगे कहा, "हमारी दो यूरो बिलियन साइकिल की रणनीति हजारों मील की नई बाइक लेन के साथ अधिक साइकिलिंग को प्रोत्साहित करेगी, और जो सीखना चाहते हैं, उनके लिए ट्रेनिंग में मदद करेगी।"
दरअसल कोरोना वायरस से हुई तबाही के बाद अब कई देशों में जीवन वापस से पटरी पर लौटने लगा है। पश्चिमी देशों में प्रशासन को डर है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद लोग सार्वजनिक परिवहन में यात्रा करने से डरेंगे। ऐसे में पश्चिमी देशों में ट्रेन और बसों में यात्रा करने के बजाय लोगों को साइकिल पर चलने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।  
इसी कड़ी में जर्मनी से लेकर पेरु तक के सामाजिक कार्यकर्ता लगातार सड़कों पर अलग से साइकिल लेन बनाने या पहले से मौजूद लेन को चौड़ा करने की मांग कर रहे हैं। इनका कहना है कि भले ही इसे छोटे अंतराल के लिए ही सही लेकिन यह किया जाना चाहिए।

इस मामले में यूरोपीय साइकिल संघ के सह अध्यक्ष मॉर्टन काबेल ने कुछ समय पहले कहा था कि अगर शहरों को सुचारु रूप से चलाना है तो साइकिल के लिए अनुकूल वातावरण बनाना होगा। उन्होंने कहा था, “बहुत से लोग सार्वजनिक परिवहन में चलने से डरेंगे लेकिन कभी न कभी तो इन्हें काम पर जाना ही होगा। ऐसे में बहुत कम ही शहर ऐसे हैं जो सड़कों पर कारों की अधिक मात्रा को बर्दाश्त कर पाएंगे।”
डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगेन में लोग रोजाना यात्रा के लिए भारी संख्या में साइकिल का इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं, नीदरलैंड में भी साइकिल लेन का विस्तृत जाल बिछा हुआ है।

वहीं, बर्लिन में कुछ सड़कों पर पीली रेखा बनाकर कार और साइकिल के लिए अलग लेन बनाई गई है। इसी तरह की पहल पेरु के लिमा शहर, स्पेन के बार्सिलोना और इटली के मिलान में भी की जा रही है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us