धनी बनना है तो तिजोरी और अलमारी की दिशा बदलें

Rakesh Jha Updated Wed, 22 Aug 2012 03:18 PM IST
be-richer-by-changing-direction-of-almirah-and-safe
मेहनत और योग्यता के अनुसार आपकी आय नहीं है तो देखिए कि कहीं इसकी वजह आप खुद तो नहीं। वास्तु विज्ञान के अनुसार तिजोरी या अलमारी गलत दिशा में रखने पर इसका असर घर के मुखिया की आमदनी पर पड़ता है। इससे धन की बरकत भी नहीं होती है। इसलिए अगर आपके घर में यह दोष है तो इसे जल्दी ठीक कर लीजिए।
कुबेर बरसाते हैं धन
जिस तिजोरी या अलमारी में कैश व ज्वेलरी रखते हैं उसे कमरे में दक्षिण की दीवार से लगाकर रखें। इससे अलमारी का मुंह उत्तर की ओर खुलेगा। इस दिशा के स्वामी देवताओं के खजांची कुबेर हैं। उत्तर दिशा में अलमारी का मुंह खुलने से धन और ज्वेलरी में बढ़ोतरी होती है।

इन्द्र की कृपा कैसे मिले
वास्तु विज्ञान में पूर्व दिशा को उन्नति और उर्जा की दिशा कहा गया है। इस दिशा के स्वामी इन्द्र हैं, जो देवताओं के राजा हैं। इसलिए धन-संपत्ति में वृद्धि की आशा रखने वाले को तिजोरी और धन रखने वाली अलमारी को पश्चिमी दीवार से लगाकर रखना चाहिए। इससे तिजोरी और अलमारी का मुंह पूर्व दिशा की ओर खुलेगा और देवराज की कृपा दृष्टि आप पर बनी रहेगी।

इस दिशा में नहीं रखें ज्वेलरी
अगर आपकी तिजोरी का मुंह दक्षिण दिशा की ओर खुलता है तो जल्दी से जल्दी तिजोरी का स्थान बदल दें। दक्षिण दिशा का स्वामी यम है। इस दिशा में तिजोरी का मुंह खुलने से रोग एवं अन्य दूसरी चीजों में धन का व्यय बढ़ जाता है। इस दिशा में धन रखने से धन की हानि होती है। वास्तु विज्ञान के अनुसार इस दिशा में ज्वेलरी रखने से ज्वेलरी की वृद्धि रूक जाती है।

आर्थिक तंगी से कैसे बचें
संपत्ति में वृद्धि के लिए जरूरी है कि आपको अपनी मेहनत के अनुसार अच्छी आमदनी हो और आपकी कमाई का कुछ हिस्सा बचे। लेकिन अगर आप पश्चिम दिशा में तिजोरी या धन रखते हैं तो ऐसा होना कठिन होता है। वास्तु विज्ञान के अनुसार इस दिशा का स्वामी वरूण को माना जाता है। इसके कारण इस दिशा में धन रखने से धन पाने के लिए कठिन परिश्रम करना पड़ता है और धन पानी की तरह खर्च होता है। इसलिए आर्थिक तंगी बनी रहती है। 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Astrology News in Hindi related to daily horoscope, tarot readings, birth chart report in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Astro and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Vaastu

जानिए पूजा में कलश की स्थापना क्यों की जाती है

किसी भी पूजा, त्योहार, संस्कार में सबसे पहले कलश स्थापना और पूजन के बिना कोई भी मंगलकार्य शुरू नहीं किया जाता है।

21 जनवरी 2018

Related Videos

सुदर्शन पटनायक ने दी श्रीदेवी को श्रद्धांजलि, बनाई रेत पर कलाकृति

सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक ने अभिनेत्री श्रीदेवी को अपने ही अंदाज में श्रद्धांजलि। उन्होंने रेत पर श्रीदेवी की कलाकृति बनाई और उन्हें याद किया। बता दें कि दुबई में शादी अटेंड करने गई श्रीदेवी का हार्ट अटैक की वजह से निधन हो गया।

26 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen