विज्ञापन

अमेरिका: राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ महाभियोग अब सीनेट में चलेगा, 228 सांसदों के वोट से मिली मंजूरी

पीटीआई, वाशिंगटन। Updated Thu, 16 Jan 2020 10:04 PM IST
impeachment against President Donald Trump
impeachment against President Donald Trump - फोटो : ANI
ख़बर सुनें

सार

  • निचले सदन में हुई वोटिंग में 228 सांसदों ने इसके पक्ष में डाला वोट
  • 193 सांसदों ने विपक्ष में की वोटिंग, 438 सदस्यीय निचले सदन में डेमोक्रेट्स का है दबदबा

विस्तार

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ अब संसद के ऊपरी सदन सीनेट में महाभियोग की कार्यवाही चलाई जाएगी। बुधवार को संसद के निचले सदन में चल रही महाभियोग की इस कार्यवाही को ऊपरी सदन सीनेट में भेजने के पक्ष में सांसदों ने वोट कर अपनी मंजूरी दे दी।
विज्ञापन
सीनेट को ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव भेजने से पहले प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने आरोपों पर हस्ताक्षर किए। पेलोसी ने कहा, हमारे लिए यह एक दुखद और बेहद त्रासदीपूर्ण है कि राष्ट्रपति ने राष्ट्रीय सुरक्षा को कमजोर करने, अपने पद की शपथ का उल्लंघन करने और चुनाव की सुरक्षा को खतरे में डालने के कदम उठाए। उन्होंने कहा, आज हम इतिहास बनाएंगे। इस पर राष्ट्रपति को जवाबदेह ठहराया जाएगा।

बता दें कि सत्ता के दुरुपयोग और संसद के काम में अवरोध पैदा करने के आरोप में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही अमल में लाई जा रही है। यह कार्यवाही अब सीनेट में चलेगी। ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही सीनेट में चलाए जाने के पक्ष में 228 सांसदों ने जबकि विपक्ष में 193 सांसदों ने वोट दिया।

जानकारी के अनुसार, अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने बुधवार को सीनेट में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग कार्यवाही आगे बढ़ाते हुए इसे उच्च सदन में भेजने के लिए मतदान किया, ताकि उन्हें सत्ता के दुरुपयोग और कांग्रेस के लिए बाधा पैदा करने को लेकर पद से हटाया जा सके।

सदन ने महाभियोग चलाने के लिए अभियोजन पक्ष की ओर से सात सांसदों को भी नियुक्त किया है, जो डेमोक्रेट सदस्यों के साथ महाभियोग की कार्यवाही पर बहस करेंगे। इन्हें स्पीकर नैंसी पेलोसी ने नामित किया है।

बता दें कि 435 सदस्यों वाले निचले सदन में बीते साल 18 दिसंबर को राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ पद के दुरुपयोग के आरोप लगाते हुए महाभियोग चलाए जाने की संस्तुति की गई थी।

कांग्रेसी और इंटेलिजेंस पर स्थायी चयन समिति के अध्यक्ष एडम शिफ नामित किए गए सदस्यों की समिति के प्रमुख होंगे। उनके साथ कांग्रेसी और सदन की न्यायिक समिति के प्रमुख जेरी नैडलर, जोए लोफग्रेन, हकीम जेफरीज, वैल डेनिंग डेमिंग्स व दो अन्य सदस्य इस समिति में शामिल रहेंगे।

महाभियोग की कार्यवाही अब उच्च सदन सीनेट में चलेगी, जहां ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी के पास 100 सदस्यों के साथ बहुमत है। ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही के 21 जनवरी से शुरू होने की संभावना है, जिसकी अध्यक्षता सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश करेंगे। ट्रायल के दौरान व्हाइट हाउस राष्ट्रपति का बचाव करेगा।

वहीं उच्च सदन में ट्रंप की पार्टी के पास बहुमत होने के चलते व्हाइट हाउस का मानना है कि वह इस कार्यवाही से अपने पक्ष में मोड़ लेगा। व्हाइट हाउस में चीन के साथ व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर के दौरान ट्रंप ने अपने खिलाफ चलाए जा रहे महाभियोग को पिछले कुछ सप्ताह से चली आ रही छल और छद्म वाली कार्यवाही के रूप में वर्णित किया। इस दौरान स्पीकर नैंसी पेलोसी पर भी निशाना साधा गया।

ट्रंप के अभियान के प्रबंधक ब्रैड पार्सकेल ने कहा कि स्पीकर नैंसी पेलोसी ने जिन आरोपों को लेकर राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही चलाए जाने का प्रयास किया है, इसमें वह असफल साबित हुई हैं। महाभियोग की यह कार्यवाही शुरू से ही एक दिखावटी और डेमोक्रेट की आने वाले दस महीनों में होने वाले चुनावों में दखलंदाजी करने की कोशिश से अधिक कुछ भी नहीं है। 
आगे पढ़ें

ट्रंप पर लगे हैं ये आरोप

विज्ञापन

Recommended

त्योहारों के मौसम में ऐसे बढ़ाएं रिश्तों में मिठास
Dholpur Fresh (Advertorial)

त्योहारों के मौसम में ऐसे बढ़ाएं रिश्तों में मिठास

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

World

नेपाल की संसद में प्रचंड की पसंद के स्पीकर के नाम पर सहमति

करीब एक महीने की जद्दोजहद के बाद नेपाली संसद में स्पीकर के नाम पर सहमति बन गई। प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली और नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के अध्यक्ष पुष्प कमल दहल प्रचंड ने आखिरकार स्पीकर पद के लिए अग्नि सपकोटा के नाम पर अपनी मुहर लगा दी।

23 जनवरी 2020

विज्ञापन

कानपुर में CAA पर बोले योगी आदित्यनाथ,देश विरोधी नारे लगाने वालों पर होगा मुकदमा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़े चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि उत्तर प्रदेश की धरती पर कोई देश विरोधी नारे लगाएगा, तो उस पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होगा।

22 जनवरी 2020

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us