विज्ञापन
विज्ञापन

जब शॉपिंग करने पहुंचा ये बंदर!

Avanish Pathakअवनीश पाठक Updated Tue, 11 Dec 2012 04:57 PM IST
when monkey came to shopping!
ख़बर सुनें
टोरंटो के एक शॉपिंग मॉल में उस वक्त लोग अचरज में पड़ गए जब उनके साथ खरीददारी करने के लिए एक बंदर भी पहुंच गया।
विज्ञापन
आईकेईए के शॉपिंग स्टोर में चमड़े का जैकेट पहने एक बंदर घूमता हुआ नजर आया। उसके अलावा उसने एक नैपकिन भी पहना हुआ था।

यह वहां खरीददारी करने पहुंचे लोगों को लिए किसी कौतूहल से कम नहीं रहा। हर चेहरे पर कई सवाल थे। ये बंदर यहां क्या कर रहा है? यहां तक बंदर आया कैसे? ये बंदर आखिरकार किसका है?

इतना ही नहीं ढेरों लोगों ने इस बंदर की तस्वीरें उतारनी शुरू कर दीं। देखते देखते यह बंदर सोशल मीडिया के जरिए दुनिया भर में चर्चा का विषय बन गया।

बहरहाल, बंदर के मालिकों का पता लगाया गया। उन पर 151 डॉलर (करीब साढ़े सात हज़ार रुपये) का जुर्माना लगाया गया।

टोरंटो पशु विभाग के कार्यक्रम अधिकारी मैरी लू लेहर ने कहा, “पालतू पशु के लिए बंदर का चुनाव एक अजीब पसंद है। आम तौर पर लोग कुत्ते पालते हैं।”

लेहर के मुताबिक पांच महीने के इस बंदर के मालिक इसे मांट्रियल से लाए जब वह डेढ़ महीने का था। लेहर ने ये भी बताया कि बंदर के मालिकों ने ये मान लिया है कि जो हुआ है, वह नहीं होना चाहिए।

टोरंटो पशु विभाग के मुताबिक अमूमन बंदरों में एक तरह का संक्रमण देखा गया है जिसके चपेट में मानव भी आ सकते हैं।

हालांकि पशु संरक्षण अधिकारियों की टीम ने इस बंदर को अपने कब्जे में लेकर इसे बाद में ओनाटेरियो के सदरलैंड में स्थित पुश अभ्यारण्य में भेज दिया है। अब इस अभ्यारण्य में कुल 22 बंदर हो गए हैं जिनमें 2 बंदर अगले कुछ सप्ताह तक यहां लाए जाएंगे।
विज्ञापन

Recommended

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका
TAMS

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Rest of World

कनाडा का एक प्रांत भी चला अमेरिका की राह

कनाडा के क्यूबेक प्रांत की सरकार अमेरिका की राह पर चलने जा रही है। प्रांतीय विधान सभा ने आप्रवासियों और शरणार्थियों की संख्या कम करने वाले बिल को मंजूरी दी है।

17 जुलाई 2019

विज्ञापन

दिल्ली में 40 साल बाद सबसे बड़ी बाढ़ का खतरा, यमुना का पानी खतरे के निशान से ऊपर

दिल्ली में 40 साल बाद अब तक की सबसे बड़ी बाढ़ का खतरा सिर पर है। दिल्ली के मुख्ममंत्री अरविंद केजरीवाल ने आपात बैठक बुलाकर अधिकारियों को यमुना की तलहटी में रहने वाले हजारों लोगों की मदद करने और अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है।

19 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree