बांग्लादेश: पूर्व PM खालिदा जिया को सजा सुनाए जाने के बाद सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारी 

एजेंसी, ढाका Updated Thu, 08 Feb 2018 09:38 PM IST
khaleda zia, Bangladesh
khaleda zia, Bangladesh
ख़बर सुनें
बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को सजा सुनाए जाने के बाद ढाका समेत कई शहरों में प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर आए। जमकर आगजनी और पथराव किया गया। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि खालिदा के खिलाफ अदालती कार्रवाई सत्ताधारी पार्टी बांग्लादेश आवामी लीग की नेता और प्रधानमंत्री शेख हसीना के इशारों पर हो रही है।
हालांकि कोर्ट के फैसले से पहले ही राजधानी ढाका में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था। प्रशासन को आशंका थी कि खालिदा जिया के समर्थक फैसले के बाद हिंसक प्रदर्शन करेंगे, जो सही साबित हुई।

भ्रष्टाचार के इस मामले में मिली खालिदा को सजा
बांग्लादेश की पीएम (2001-2006) रहते हुए खालिदा जिया पर अनाथ बच्चों के नाम से विदेशों द्वारा भेजी गई लाखों डॉलर की रकम चट कर जाने का आरोप है। इस विदेशी रकम के सही इस्तेमाल के लिए देश में एक ट्रस्ट बनाया गया। लेकिन विदेशों से आया पैसा ट्रस्ट के खाते के बजाए दूसरे खाते में रखा गया। दो बार प्रधानमंत्री रह चुकी खालिदा पर आरोप लगा कि उन्होंने 2,52,00 डॉलर की रकम का इस्तेमाल अनाथ बच्चों के लिए नहीं किया, बल्कि इस पैसे से जमीनें खरीदी गईं।
 
आगे पढ़ें

रोओ मत, मैं वापस आऊंगी: जिया

RELATED

Spotlight

Most Read

Rest of World

पेट्रोल की कीमतों पर जर्मनी के लोगों ने किया था ये काम, सरकार को झुकना पड़ा और रातों-रात कम हुए दाम

भारत में पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। इससे परेशान लोग सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक विरोध कर रहे हैं। जगह-जगह सरकार की आलोचना हो रही है।

23 मई 2018

Related Videos

दुनिया को हैरान कर रहा ये शख्स, आप भी देखें कैसे

दुनिया में ऐसे इंसानों की कमी नहीं जिनकी कला से लोग हैरत में पड़ जाते हैं। आइए आपको एक ऐसे शख्स से मिलवाते हैं जिनकी कला अद्भुत है...

24 अप्रैल 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कि कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स और सोशल मीडिया साइट्स के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं।आप कुकीज़ नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज़ हटा सकते हैं और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डेटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते है हमारी Cookies Policy और Privacy Policy के बारे में और पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen