विज्ञापन

मलाला की किस्मत बदली, स्वात रहा अछूता

बीबीसी हिंदी Updated Thu, 28 Mar 2013 03:19 PM IST
विज्ञापन
malala yousafzai destiny changed swat still untouched
ख़बर सुनें
लड़कियों की शिक्षा के लिए आवाज़ बुलंद करने वाली पाकिस्तान की मानवाधिकार कार्यकर्ता मलाला युसुफज़ई की अपनी ज़िंदगी में पिछले एक साल में बड़ा बदलाव आया है।
विज्ञापन
स्वात में तालिबान की तरफ से मौत की धमकी झेल रही मलाला अब इंग्लैंड में एक अच्छे स्कूल में तालीम पा रही हैं। साथ ही उनकी जीवनी लिखने के लिए मलाला के साथ तीन मिलियन डॉलर यानी करीब 15 करोड़ रुपए का करार किया गया है।

लेकिन मलाला के घर स्वात और आसपास के इलाकों में शिक्षा और सुरक्षा के हालात अब भी नहीं बदले हैं।

मंगलवार को ही पाकिस्तान के खैबर प्रांत में एक महिला शिक्षक शाहनाज़ नाज़ली की हत्या कर दी गई।

सुरक्षा के सवाल
पिछले साल 15 साल की मलाला को अक्तूबर महीने में तालिबान ने उस समय निशाना बनाया था जब वो बस में अपने स्कूल से वापस लौट रही थीं।

मलाला को सिर में गोलियां लगी थीं और उन्हें इलाज के लिए ब्रिटेन लाया गया था।

बीबीसी के मैथ्यू बैनिस्टर से बातचीत में पाकिस्तान की राजनीति में सक्रिय नादिया शेर खान ने कहा कि स्वात में कुछ भी नहीं बदला है।

मलाला पर हमला होने के बाद स्थानीय सरकार ने स्वात के इकलौते महिला कॉलेज को मलाला का नाम दे दिया।

लेकिन वहां के लोगों का कहना है कि ये सिर्फ सतही कदम है और असलियत में महिलाओं की शिक्षा के लिए कुछ नहीं हो रहा है।

उसी कॉलेज में पढ़ने वाली एक छात्रा शहनाज़ कहती हैं, "जब नाम बदला गया तो पहले कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई लेकिन जब मलाला की बड़ी तस्वीर कॉलेज में लगाई गई तब लोगों ने विरोध किया। उन्हें डर है कि कहीं तालिबान हमला न कर दे।"

विरोधों के बीच घरेलू प्रशासन ने निर्धारित समय से एक हफ्ते पहले कॉलेज में सर्दी की छुट्टी कर दी।

शिक्षा में मुश्किल
इलाके में लड़कियों को पढ़ाई में परेशानी पर एक दूसरी छात्रा शादाब कहती हैं, "स्कूल में बहुत भीड़ है। मैं बीएससी में पढ़ती हूं और मेरी क्लास में सौ छात्राएं हैं। चालीस मिनट की क्लास में 15 मिनट तो सिर्फ रजिस्टर में उपस्थिति दर्ज कराने में निकल जाता है।"

शादाब के पिता कहते हैं, "बच्चियां घर से स्कूल कैसे जाएं ये भी बड़ी समस्या है क्योंकि कॉलेज कोई यातायात उपलब्ध नहीं कराता और हमें निजी वाहनों पर उन्हें भेजना पड़ता है। मां-बाप के दिलों में हमेशा यही बात चलती रहती है कि उनके बच्चे सुरक्षित घर लौट आएं।"

नादिया शेर खान कहती हैं कि अगर लड़कियां पढ़ भी लें तो उसके बाद उन्हें कुछ काम नहीं मिलता है जिससे बड़ी मुश्किल से ली गई तालीम भी ज़ाया हो जाती है।
विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

मैसकट रिलोडेड- देश की विविधता में एकता का जश्न
Invertis university

मैसकट रिलोडेड- देश की विविधता में एकता का जश्न

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

कोरोनावायरस: चीन के वुहान से लौटे 406 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव, जल्द जा सकेंगे अपने घर

वुहान से भारत लाए गए 406 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इन सभी लोगों को आईटीबीपी के सुविधा केंद्र में रखा गया था। अब ये सभी जल्द अपने घर जा सकेंगे।

16 फरवरी 2020

Most Read

Rest of World

सेना ने पोस्ट की युवती की सेल्फी, बवाल होने के 30 मिनट बाद बताया कारण

दुनिया भर में मशहूर और ताकतवर इस्त्राइल की सेना चर्चा का विषय बन गई

16 फरवरी 2020

विज्ञापन
आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us