दावोस से दुनिया को पीएम मोदी का संदेश- समृद्धि के साथ सेहत चाहिए तो भारत आइए

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 23 Jan 2018 10:21 PM IST
LIVE updates: prime minister narendra modi address in world economic forum in davos
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  - फोटो : ANI
वर्ल्ड इकोनामिक फोरम (डब्लूईएफ) की बैठक में पहली बार शिरकत करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 1997 को अपने अंदाज में याद किया जब आखिरी बार भारत के प्रधानमंत्री के रूप में एचडी देवगौड़ा ने इस सालाना कार्यक्रम में भाग लिया था।
उन्होंने कहा कि तब भारत का जीडीपी 400 अरब डॉलर था जो अब छह गुना हो चुका है। तब ट्वीट करना चिड़ियों का काम था और आज यह इनसानों की प्रमुख गतिविधि बन चुका है।

पिछले 20 साल में आए बदलावों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि तब इस फोरम का सूत्र वाक्य था ‘बिल्डिंग दि नेटवर्क सोसाइटी’ लेकिन आज यह विचार सदियों पुराना लगता है।

आज हम आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की दुनिया में जी रहे हैं। तब गूगल का कहीं अता-पता नहीं था। तब दुनिया के बहुत कम लोगों ने ओसामा बिन लादेन का नाम सुना था और हैरी पोर्टर एक अनजाना नाम था। तब अमेजन के बारे में ढूंढने पर विशाल नदी और जंगल का बोध होता था। जाहिर है इन वर्षों में भारतीय अर्थव्यवस्था के साथ पूरी दुनिया पूरी तरह से बदल चुकी है।


इस बदलाव को रेखांकित करते हुए मोदी ने कहा कि तब शतरंज के खिलाड़ियों को कंप्यूटर से हारने का डर भी नहीं सताता था। लेकिन तब भी दावोस अपने समय से आगे था और उसे वर्ल्ड इकोनामिक फोरम के कारण जाना जाता था।

आज भी वह समय से आगे हैं जो इस बार की सालाना बैठक के सूत्र वाक्य ‘क्रिएटिंग ए शेयर्ड फ्यूचर इन फ्रैक्चर्ड वर्ल्ड’ यानी ‘दरारों से भरी दुनिया में साझा भविष्य की तलाश’ से ध्वनित हो रहा है।

मोदी ने कहा कि यह दुनिया जितनी तेजी से बदल रही है, उसके सामने शांति, स्थिरता एवं सुरक्षा की नई और गंभीर चुनौतियां भी खड़ी हो रही हैं। पूरी दुनिया टेक्नोलाजी के इशारे पर चल रही है। जोड़ने, तोड़ने और मोड़ने में सोशल मीडिया का प्रयोग हो रहा है।

डाटा आज सबसे बड़ी संपदा बन चुका है। जो इसे काबू में रखेगा, दुनिया पर उसका वर्चस्व स्थापित होगा। लेकिन भारत तोड़ने और मोड़ने में नहीं बल्कि दुनिया के लोगों को जोड़ने में यकीन रखता है।
आगे पढ़ें

दावोस पर एक नजर

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Spotlight

Most Read

Europe

मोंटेनेग्रो के अमेरिकी दूतावास परिसर में बम फेंक खुद को उड़ाया

अमेरिकी दूतावास ने अपने नागरिकों को अगले आदेश तक दूतावास में नहीं आने की चेतावनी जारी कर दी है।

23 फरवरी 2018

Related Videos

मुरादाबाद में मासूम ने आत्महत्या की! परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

मुरादाबाद के भगतपुर में 14 वर्षीय छात्र ने मदरसे में खुद को फांसी लगाकर जान दे दी। घटना के बाद से इलाके में सन्नाटा पसरा हुआ है। स्थानीय लोगों की माने तो इस क्षेत्र में ऐसी ये पहली घटना है।

23 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen