आपका शहर Close

UN में स्थायी सदस्यता के लिए भारत के इस दांव पर चीन की बोलती बंद !

amarujala.com- Presented by : अजय कुमार सिंह

Updated Wed, 15 Mar 2017 12:18 PM IST
Another Big Initiative By India At UN Draws Lukewarm China Response
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता के लिए वीटो पावर छोड़ने की भारत की पेशकश पर चीन ने सधी प्रतिक्रिया दी है। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा है कि चीन, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार का समर्थन करता है।
साथ ही ये भी कहा कि इसमें विकासशील देशों का और प्रतिनिधित्व और राय होनी चाहिए। गौरतलब है कि सुरक्षा परिषद में 15 सदस्य हैं, जिनमें पांच स्थायी सदस्य- चीन, रूस, अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस है। कुछ दिन पहले भारत ने कहा था कि स्थायी सदस्यता के लिए कुछ दिनों के लिए वो वीटो पावर छोड़ने को तैयार है।

चीन ने सुरक्षा परिषद में सुधार के लिए सभी पक्षों की चिंताओं एवं हितों को समटेते हुए पैकेज समाधान पर जोर दिया है। न्यूज एजेंसी पीटीआई को दिए एक लिखित जवाब में चीन ने कहा कि इन मुद्दों का एक पैकेज समाधान पर पहुंचकर ही हल किया जा सकता है। जिसमें व्यापक लोकतांत्रिक विमर्श के माध्यम से सभी पक्षों के हितों एवं चिंताओं को समेटा गया हो।

गौरतलब है कि यूएन में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि जी4 देशों, भारत, जापान, ब्राजील और  जर्मनी का मानना है कि यूएन के सदस्य देशों का एक बड़ा बहुमत स्थायी और अस्थायी सदस्यों की संख्या बढ़ाने के पक्ष में हैं। समूह ने चेताया था कि वीटो का मुद्दा महत्वपूर्ण  है लेकिन सदस्य देशों को इसे परिषद सुधार की प्रक्रिया पर ही वीटो के तौर पर उपयोग नहीं करना चाहिए।

सदस्यों द्वारा सुधार के नाम पर अस्थायी सदस्यों की संख्या बढ़ाए जाने के विचार की ओर इशारा करते हुए समूह ने कहा कि सुरक्षा परिषद में स्थायी और अस्थायी सदस्यों के बीच शक्ति का असंतुलन है और केवल अस्थायी वर्ग में विस्तार से समस्या का समाधान नहीं होगा। वास्तव में यह स्थायी और अस्थायी सदस्यों के बीच अंतर को और बढ़ाएगा।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Comments

स्पॉटलाइट

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

OMG: विराट ने अनुष्का को पहनाई 1 करोड़ की अंगूठी, 3 महीने तक दुनिया के हर कोने में ढूंढा

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

मांग में सिंदूर, हाथ में चूड़ा पहने अनुष्का की पहली तस्वीर आई सामने, देखें UNSEEN PHOTO और VIDEO

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

अनुष्‍का के लिए विराट ने शादी में सुनाया रोमांटिक गाना, कुछ देर पहले ही वीडियो आया सामने

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

विराट-अनुष्का का रिसेप्‍शन कार्ड सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, देखें कितना स्टाइलिश है न्योता

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

'ड्रोन विवाद' पर चीनी मीडिया की धमकी- माफी मांगे भारत वर्ना काफी बुरा होगा अंजाम

Chinese media warns india apologise for drone intrusion or face worse consequences
  • शनिवार, 9 दिसंबर 2017
  • +

उत्तर कोरिया की मिसाइल पनडुब्बी के खिलाफ अमेरिका के नेतृत्व में ड्रिल शुरू

North Korean missile submarine against America drill starts
  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

चीन को नहीं पाक पर भरोसा, कहा- सरकार नहीं सेना ले CPEC की जिम्मेदारी

China demands involvement of the Pakistan army in CPEC
  • शनिवार, 9 दिसंबर 2017
  • +

भारत की एनएसजी सदस्यता पर चीन के रुख में कोई बदलाव नहीं

china is still on its opinion about India membership for NSG
  • शुक्रवार, 8 दिसंबर 2017
  • +

चांद पर रोबोट स्टेशन बनाने की योजना बना रहा चीन

China is planning to make a robot station on Moon
  • बुधवार, 6 दिसंबर 2017
  • +

भारतीय ज्यादा आलसी, चीन के साथ ही रहना चाहता है तिब्बत: दलाई लामा

dalai lama says tibet do not want independence from china but want more development
  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!