विज्ञापन
Home ›   Video ›   Smart Beti ›   story of smart beti shabina unicef

परिवार के संघर्ष का कर्ज अदा करने के बाद शादीः शबीना

अमर उजाला ब्यूरो, श्रावस्ती Updated Fri, 23 Nov 2018 06:48 PM IST

पिता जिस तरह हाड़तोड़ मेहनत कर अपने बच्चों को पढ़ाने के  लिए पैसे जुटा रहे हैं उसे देख शबीना का दिल मसोस उठता था। घर की आमदनी का जरिया मजूरी ही है।

अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Latest

Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X