दिन में सोने की आदत हैं तो बदल लें, नहीं तो मां लक्ष्मी ऐसे लेंगी 'बदला'

संपादकीय डेस्क Updated Fri, 08 Dec 2017 03:21 PM IST
sleeping in day time it may be dangerous according to shastra
ख़बर सुनें

नींद हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी है। सोने का भी एक सही समय होता है, क्योंकि गलत समय पर सोना स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को जन्म देता है, साथ ही इसे धर्म के नजरिए से भी अपशकुन माना जाता है। कई बार लोग थकान अथवा आलस की वजह से दिन में सो जाते हैं, लेकिन यदि आप दिन में सोते हैं, तो वह नींद चैन की नहीं, बल्कि खतरे की घंटी हो सकती है। शास्त्रों में बताया गया है, ‘दिवास्वापं च वर्जयेत्’ अर्थात ‘दिन में सोना उचित नहीं है’। दिन के समय सोने से देवी-देवताओं का आशीर्वाद नहीं मिलता है और न ही उस घर में लक्ष्मी निवास करती हैं। लक्ष्मी उन लोगों से रूठ जाती हैं, जो सूर्योदय के बाद भी बहुत देर तक सोते रहते हैं। शास्त्रों के अनुसार, ऐसे लोगों के पास चाहे जितना भी पैसा हो, लेकिन वे संतुष्ट नहीं रहते हैं। वे सदैव ही मानसिक तनाव का सामना करते हैं और लंबी उम्र तक स्वस्थ भी नहीं रह पाते हैं।

पढ़ें- सक्सेस मंत्र: हमेशा खुद पर करें विश्वास, चुनौतियों से कभी न घबराएं

रात की नींद से शरीर को पर्याप्त आराम मिलता है, जिससे सुबह उठकर शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है, जो पूरे दिन के लिए पर्याप्त होती है। दिन में सोने से हम अनावश्यक रूप से अपने शरीर को आलस्य का घर बना लेते हैं। इसलिए रात में भरपूर गहरी नींद लेकर दिन में कार्य करना ही उचित माना गया है। शास्त्रों में ब्रह्म मुहूर्त में उठने का विशेष महत्व बताया गया है। इस समय की ताजी हवा कई बीमारियों की रोकथाम करती है। इसी वजह से सुबह के समय घूमने और व्यायाम करने की परंपरा प्राचीन समय से चली आ रही है। मान्यता है कि सूर्यास्त के समय सभी देवी-देवता पृथ्वी पर भ्रमण करते हैं। ऐसे में इस समय जो लोग सोते हैं, उन्हें उनकी कृपा प्राप्त नहीं होती। शाम का समय पूजा-पाठ का होता है और उस समय अकारण सोने वाले लोग दुर्भाग्य का शिकार हो सकते हैं। इस दौरान जो लोग कर्म न करते हुए आलस्य के कारण सोए रहते हैं, वे लोग दुर्भाग्य के शिकार हो सकते हैं। नींद हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि हम अपनी नींद पूरी करने के लिए जब चाहें सो जाएं।

 

 
आगे पढ़ें

RELATED

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all spirituality news in Hindi related to religion, festivals, yoga, wellness etc. Stay updated with us for all breaking news from fashion and more Hindi News.

Spotlight

Most Read

Wellness

बीमारी से रहना चाहते हैं दूर तो श्रीकृष्ण के बताए इस रास्ते पर चलें

मन से बलवान आत्मा है। उससे ताकतवर शरीर में कोई भी नहीं। मन जिधर लगाम खींचता है, शरीर रूपी रथ के घोड़े, उसी दिशा की ओर दौड़ पड़ते हैं। 

6 जनवरी 2018

Related Videos

स्तनपान है मां और बच्चे दोनों के लिए वरदान

मां का दूध बच्चे के लिए वरदान होता है। हालिया रिपोर्ट भी इसी ओर संकेत करते हैं। यूनीसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार स्तनपान से हर साल 8,20,000 बच्चों की जान बचाई जा सकती है।

12 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen