वीडियो गेम्स से जुड़ी ये बड़ी बात कोई नहीं बताएगा आपको

लाइफस्टाइल डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 27 Jan 2018 10:25 AM IST
Video Games
1 of 3
विज्ञापन
कुछ वैज्ञानिकों का मानना था कि वीडियो गेम खेलने के कारण लोग हिंसक हो जाते हैं, इससे उनके बर्ताव में बहुत से बदलाव देखने को मिलते हैं, लेकिन ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने हाल में किए गए एक अध्ययन में इस बात को एकदम निराधार पाया है।
Video Games
2 of 3
दरअसल, पहले किए गए अध्ययन में यह पता चला था कि खतरनाक वीडियो गेम खेलने के कारण लोग हिंसात्मक हो जाते हैं। लेकिन हाल में किए गए एक शोध में कुछ ऐसे प्रमाण मिले हैं जिससे पता चलता है कि हिंसक वीडियो गेम से व्यक्ति के व्यवहार का कोई लेनादेना नहीं है। शोधकर्ताओं ने 3,000 से अधिक प्रतिभागियों पर यह रिसर्च किया।
विज्ञापन
Video Games
3 of 3
शोधकर्ताओं ने कहा, ‘हम यह कह सकते हैं कि वीडियो गेम खेलने वालों के व्यवहार में कुछ बदलाव अवश्य होता है लेकिन यह जरूरी नहीं कि वह हिंसात्मक हो जाता है। किसी भी व्यक्ति के वीडियो गेम खेलने से उसके व्यवहार में बदलाव का कोई संबंध नहीं है।’ पहले किए गए एक अध्ययन में शोधकर्ताओं का मानना था कि वीडियो गेम खेलने वाले लोग में उसमें खेले जा रहे कैरेक्टर के अनुसार ही व्यवहार करते हैं, लेकिन हालिया अध्ययन में हिंसात्मक वीडियो गेम खेलने और व्यक्ति के व्यवहार में बदलाव का कोई कारण नहीं पाया गया है। 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all update about bollywood news, fitness news, cricket news, Entertainment news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00