द लेडी इन व्हाइटः सिमी ग्रेवाल

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क Updated Mon, 29 Oct 2012 10:42 PM IST
simi grewal the lady in white birthday special
बॉलीवुड अभिनेत्री सिमी ग्रेवाल का आज जन्मदिन है। सिमी ग्रवाल का जन्म 17 अक्तूबर 1947 को हुआ। सिमी ग्रेवाल को उनकी कुछ खास फिल्मों 'दो बंधन', 'साथी', 'मेरा नाम जोकर' 'सिद्घार्थ' और कर्ज के लिए जाना जाता है।

जीवन
सिमी ग्रेवाल का जन्म दिल्‍ली में हुआ। सिमी के पिताजी जे.एस ग्रेवाल आर्मी में ब्रिगेडियर के पद पर रह चुके हैं। सिमी का पालन-पोषण इंग्लैंड में हुआ और इनकी पढ़ाई-लिखाई न्यूलैंड हाउस स्कूल में बहन अमृता के साथ हुई। 1980 के शुरूआत में ‌सिमी का अफेयर पाकिस्तानी बिजनेसमैन जो बाद में पंजाब, पाकिस्तान के गवर्नर बने सलमान तासीर के साथ लंबे समय तक चला। इनकी शादी रवि मोहन के साथ हुई लेकिन इनकी शादी लंबे समय तक चली नहीं और इन्होंने तलाक ले लिया।

कॅरियर
इंग्लैंड में अपना बचपन बिताने के बाद इनका परिवार इन्हें युवावस्‍था में ही इंडिया ले आया। इनकी इंग्लिश लैंग्वेज के कारण ही फिल्ममेकर्स ने इन्हें 'टार्जन गोज टू इंडिया' फिल्म में एक रोल ऑफर किया। उस समय सिमी महज 15 साल की थी। फिरोज खान के साथ 1962 में सिमी ग्रेवाल की ये डेब्यू फिल्म थी। इस फिल्‍म में उनकी परफॉर्मेंस अच्छी थी जिस कारण इन्हें 60-70 के दशक में कई हिंदी फिल्मों में काम करने का मौका मिला।

इंपोर्टेंट बात ये थी कि इन्होंने इस दौरान जो भी फिल्में की वो नोटेबल थी। इन्हें कई नामी निर्देशकों जैसे राज कपूर, सत्यजीत रे, मृणाल सेन और राज खोंसला के साथ काम करने का मौका मिला। इतना ही नहीं सिमी ने शशि कपूर के साथ 'सिद्घार्थ' फिल्म में भी काम किया। सिमी ग्रेवाल के इस फिल्म में सेमी न्यूड सींस देने से वे कंट्रोवर्सी का भी शिकार हुई। आखिरकार ये फिल्म सेंसरबोर्ड के कारण भारत में रिलीज नहीं हो पाई।

1970 के मध्य में इन्होंने अपने ब्रदर इन लॉ यश चोपड़ा की हिट फिल्म 'कभी कभी' में भी काम किया। इसके अलावा सिमी ने 'चलते चलते' में काम किया। फिल्म 'कर्ज' में नेगेटिव रोल में सिमी ग्रेवाल सबकी नजर में आ गईं।

जब निर्देशन के क्षेत्र में उतरी
1980 की शुरूआत में सिमी अभिनय के अलावा कुछ हटकर करना चाहती थीं तो इन्होंने लेखन और निर्देशन के क्षेत्र में काम करना शुरू किया। इन्होंने अपनी खुद की प्रोडक्‍शन कपंनी 'सिगा आर्ट इंटरनेशनल' बनाई। जिसमें इन्होंने दूरदर्शन के लिए एक टीवी सीरिज 'इट्स वूमेन वर्ल्ड' का निर्दशन, निर्माण और लेखन का कार्यभार संभाला। इन्होंने यूके के चैनल 4 के लिए 'लिविंग जीजेंड राजकपूर' एक डॉक्यूमेंट्री भी बनाई। ये डॉक्यूमेंट्री 'इंडियाज राजीव' के तीन पार्ट्स को फॉलो करके बनाई गई थी।

इसके अलावा सिमी ग्रेवाल ने एक हिंदी फीचर फिल्म 'रूखसत' का लेखन और निर्देशन किया। इसके साथ ही एक टेलीविजन कमर्शियल्स का निर्माण किया। जिसके लिए इन्हें ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 1988 में फर्स्ट Paters Award मिला। सिमी ग्रेवाल एक टीवी टॉक शो Rendezvous की एंकर भी रह चुकी हैं।

इन्होंने टेलीविजन पर वापसी की और स्टार प्लस के टॉक शो 'इंडियाज मोस्ट डिजायरेबल' में होस्ट बनी जिसमें इन्हें बॉलीवुड, बिजनेसमैन, इंडियन क्रिकेटर्स और मीडिया के नामी लोगों का इंटरव्यू लेना होता था। हाल ही में खबर भी आई थी कि लंबे अंतराल के बाद सिमी ग्रेवाल फिर से निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखने जा रही हैं। जानकारी के मुताबिक, उन्होंने एक पटकथा लिखी है और वह इसे निर्देशित करने की योजना बना रही हैं। सिमी ने बीबीसी के डॉक्यू ड्रामा 'महाराजास' के लिए भी काम किया। सिमी को एक पॉपुलर टीवी होस्ट के रूप में भी जाना जाता है।

आज सिमी ग्रेवाल का जन्मदिन है। आप हमारे साथ सिमी को जन्मदिन की बधाई दें।

Spotlight

Most Read

Entertainment Archives

करीना कपूर

बेबो के नाम से मशहूर कपूर खानदार की करीना कपूर ने बॉलीवुड में एक खास मुकाम हासिल किया हुआ है। अपने फिल्मी करियर के दौरान करीना ने 5 फिल्मफेयर अवार्ड समेत अनेक पुरस्कार हासिल किए हैं। इन्होंने हर तरह की फिल्मों में हाथ आजमाया हुआ है।

11 सितंबर 2017

Related Videos

कटरीना का नया लुक देखकर दिल तेज धड़कने लगेगा

अमर उजाला टीवी स्पेशल बॉलीवुड टॉप 10 में आज आपको दिखाएंगे ठग्स ऑफ हिंदोस्तान में कैसा है कटरीना का लुक, अक्षय कुमार क्यों नीलाम करेंगे अपनी साइकिल और पटना में क्यों नहीं हो पाएगी ‘सुपर 30’ की शूटिंग समेत बॉलीवुड की 10 खबरें।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper