विज्ञापन
विज्ञापन

प्यार में मिला धोखा, पति ने छोड़ा, जेठ करता था रेप

ब्यूरो/अमर उजाला, हाफिजगंज Updated Sat, 01 Nov 2014 10:41 AM IST
woman confined and raped in home.
ख़बर सुनें
यूपी के हाफिजगंज में फरेबी प्रेमी ब्याह रचाने के बाद खुद विदेश चला गया और उसके परिवार वालों ने युवती को घर में कैद कर लिया। एक साल बाद युवती के पुलिस अफसरों को मैसेज करने पर थाना पुलिस ने शुक्रवार को उसको ससुरालियों की कैद से मुक्त कराया।
विज्ञापन
युवती ने जेठ पर यौन उत्पीड़न और जबरन गर्भपात कराने, पति पर धोखा देकर ब्याह रचाने और ससुरालियों पर बंधक बनाने के संगीन आरोप लगाए हैं। इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेठ को हिरासत में ले लिया गया है। लड़की को देर शाम उसके पिता की सुपुर्दगी में दे दिया गया है।

एसएसपी, सीओ समेत कई अधिकारियों के मोबाइल पर शुक्रवार सुबह एक मेसेज आया। इसमें इलाके के गांव की एक युवती ने ससुरालियों पर बंधक बनाकर यौन शोषण करने का आरोप लगाया था। इसमें दर्ज नाम-पते के आधार पर अधिकारियों ने एसओ हाफिजगंज अनिल सिरोही को यह मैसेज फारवर्ड कर दिया। सिरोही ने मैसेज में बताए गए घर में दबिश दी तो युवती मिल गई। उसकी सास और जेठ भी घर में मौजूद थे। युवती काफी सहमी हुई थी। पुलिस उसे और उसके जेठ को थाने ले आई।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

जेठ ने अश्लील क्लिप बना किया रेप

विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Crime Archives

यूपी: रामलीला मंच पर डांस करने को लेकर विवाद, गोलीबारी में किशोर घायल

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में रामलीला में डांस को लेकर लोगों में जमकर मारपीट हो गई। झगड़ा इतना बढ़ गया कि इस दौरान रामलीला मंच पर तोड़फोड़ कर दी और फायरिंग भी हुई। फायरिंग करते समय छर्रा लगने से एक किशोर घायल हो गया...

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय और हेमा मालिनी पर दिया बेतुका बयान

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने सड़कों के बहाने कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा सांसद हेमा मालिनी को लेकर बेतुका बयान दिया है।

15 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree