विज्ञापन

संदेह के घेरे में रहे ये 7 एनकाउंटर, पुलिस पर उठे सवाल

Brajesh Mishra Updated Sat, 11 Apr 2015 06:04 PM IST
seven contoversial encounters of indian histoty
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बीते हफ्ते आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में हुए एनकाउंटर सवालों के घेरे में हैं। जिन हत्याओं को पुलिस मुठभेड़ का नाम देने पर तुली है, वह पूरी तरह से सोची समझी रणनीति के तहत निर्दोषों की हत्या थी, ऐसा सामने आ रहा है।
विज्ञापन
आंध्रप्रदेश के चित्तूर के जंगल में हुई मुठभेड़ में जो 20 कथित चंदन तस्कर मारे गए थे, वे तमिलनाडु के थे। इनमें से कुछ के शवों पर जले के निशान थे तो कुछ के सीने और सिर में गोली मारी गई थी। वहीं, तेलंगाना में जिन लोगों को आतंकी बताकर एनकाउंटर का दावा किया गया है वे भी पुलिस की साजिश का शिकार हुए हैं।

हैरानी की बात ये है कि पुलिस की ओर से जितने भी एनकाउंटर किए गए उनमें से ज्यादातर सवालों के घेरे में आते रहे लेकिन पुलिस की बर्बरता थमी नहीं। पढ़िए, उन चुनिंदा एनकाउंटर्स के बारे में जिनके चलते हुई पुलिस की किरकिरी।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

1- मीना खलखो हत्याकांड: पुलिस की खौफनाक साजिश

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

India News Archives

सबरीमाला: इस दावे से शुरू हुई थी मंदिर में महिलाओं के प्रवेश की कहानी

सबरीमाला मंदिर में ये है अब तक की पूरी कहानी, जानें कब क्या हुआ।

17 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: क्या बस्तर में फिर बाजी मार पाएगी भाजपा

छत्तीसगढ़ का बस्तर जिला देश का सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित क्षेत्र माना जाता है, बात राजनीति की करें तो यह जिला काफी महत्वपूर्ण भी है। इस क्षेत्र में भाजपा अपना भाग्य बदलने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक रही है।

22 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree