लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   News Archives ›   Crime Archives ›   nine year boy killed in Wardha, body parts eaten

अपहरण के बाद की हत्या, भूनकर खाए कई अंग

Updated Mon, 17 Nov 2014 10:29 PM IST
nine year boy killed in Wardha, body parts eaten
विज्ञापन
ख़बर सुनें

जमीन में गड़े गुप्त खजाने को निकालने को 'विशेष शक्तियां' हासिल करने के लिए एक व्यक्ति ने 9 साल के मासूम बच्चे का अपहरण किया और फिर उसे मारकर उसके कई अंग खा गया। मृत बच्चा उसके परिचित का बेटा था।



मामला महाराष्ट्र के वर्धा का है। जहां बीते 8 नवंबर को बच्चे की लाश मिली थी। इसके बाद जब छानबीन शुरू हुई तो पुलिस ने मुख्य आरोपी को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया जबकि उसे इस जघन्य अपराध के लिए बहकाने के आरोप में पांच अन्य लोगों को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया।


पकड़े गए आरोपियों में से उत्तम पोहाने, अंकुश गिरि, सुरेश धानोरे, दिलीप भोगे और दिलीप खामकर को 20 नवंबर तक की पुलिस हिरासत में भेजा गया है।

डीएसपी अनिल परास्कर ने बताया कि पेशे से ऑटो रिक्शा ड्राइवर आरोपी आसिफ शाह उर्फ मुन्ना पठान ने 8 नवंबर को बच्चे को किडनैप किया और फिर एक सुनसान जगह ले जाकर उसका गला घोंटकर मार डाला।

आंखे और किडनी निकाल कर खाया

nine year boy killed in Wardha, body parts eaten2
इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, बच्चे की हत्या के बाद उसने उसकी आंखें और किडनी निकाल ली और शहर के बाहर बने मं‌दिर के बाहर रख दिया। इसके बाद उसने उन्हें आग में पकाया और खाने से पहले पूजा की।

एक हफ्ते पहले एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि उसने बच्चे को पठान के साथ देखा था। पुलिस ने पठान को पकड़कर जब कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। उसने पुलिस को बताया कि गुप्त खजाने की रखवाली कर रहे भूतों से निपटने के लिए उसने खास पूजा की और इसीलिए बच्चे का इस्तेमाल किया।

अधिकारी ने बताया कि इस मामले में पांच अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है क्योंकि वे लगातार पठान के संपर्क में थे और उन्होंने ही उसे कई बार उकसाया कि गुप्त खजाना पाने के लिए बच्चे की बलि देना जरूरी है। यही नहीं, घटना को अंजाम देने के बाद वे लोग उसे एक जगह लेकर गए जहां गुप्त धन होने का दावा किया गया था।

डीएसपी ने बताया कि पठान उस एरिया में लगातार आता रहता था इस वजह से बच्चे के पिता समेत बाकी लोग भी उसे जानते थे। वह एक तांत्रिक किस्म का व्यक्ति है जिसने काला जादू भी सीखा है। आरोपी पठान खुद भी तीन बच्चों का पिता है। जबकि पीड़ित परिवार में रुपेश की हत्‍या के बाद अब एक लड़का और एक लड़की ही बचे हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00