करोड़ों की लूट का बड़ा सवाल, कौन है राजेश कालरा?

अमर उजाला, दिल्ली Updated Thu, 30 Jan 2014 01:18 PM IST
lajpat nagar loot case who is rajesh kalra
दिल्ली में हर रोज हवाला के करोड़ों रुपए की रकम इधर-उधर करने के काम में राजेश कालरा और राहुल आहूजा बड़े खिलाड़ी माने जाते हैं। ये लोग चांदनी चौक से हवाला की रकम लेते थे और बैंकों में आरटीजीएस कराते थे। हालांकि कोई इसकी पुष्टि नहीं कर रहा है।

दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के अनुसार, जिस रूट पर मंगलवार को लूट हुई, उसी रूट से वे हर रोज करोड़ों की रकम ले जाते थे। वारदात से एक दिन पहले भी इतनी ही रकम को इस रूट से ले गए थे।

सूत्रों के अनुसार, लूट की रकम 15-20 करोड़ हो सकती है। बुधवार रात राजेश कालरा ने पुलिस को बताया कि लूटी गई सारी रकम उसकी ही थी।

कॉल डिटेल्स से पता चला है कि कालरा के सट्टेबाजों के बीच गहरी पैठ है। उसका जयपुर के बुकी चंद्रेश जैन उर्फ जुपिटर और लंदन में रहने वाले बुकी संजीव चावला से भी संपर्क है। उसको भारत-दक्षिण अफ्रीका वनडे सीरिज के मैच फिक्सिंग के आरोप में सजा भी हुई।

ऐसी भी आशंका जताई जा रही है कि आईपीएल मैच फि‌क्सिंग का मामला सामने आने के कारण कई बुकियों को पैसे नहीं पहुंचाए गए होंगे। इस कारण किसी बुकी ने ही इस वारदात को अंजाम देने के लिए पेशेवर बदमाशों का इस्तेमाल किया हो।
आगे पढ़ें

सट्टेबाजी के एंगल से भी तफ्तीश

Spotlight

Most Read

Crime Archives

बिना कागजात पुलिस ने बालू व गिट्टी से भरे 10 ट्रक पकड़े

एक सप्ताह के अंदर थाना खन्ना में 35 वाहनों पर हुई कार्रवाई - पनवाड़ी क्षेत्र में लगातार अभियान से मची खलबली

10 नवंबर 2017

Related Videos

‘पद्मावत’ का रिव्यू : फर्स्ट डे-फर्स्ट शो से पहले देखिए

'पद्मावत' की रिलीज से पहले प्रोड्यूसर-डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने मीडिया के लिए प्रेस शो रखा जिसे देखने के बाद जर्नलिस्ट्स ने क्या रिव्यू दिया ‘पद्मावत’ पर वो आपको दिखाते हैं सिर्फ अमर उजाला टीवी पर।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper