लड़कियों का चोरी छिपे किया जा रहा था वर्जिनिटी टेस्ट, बन गया वीडियो

Astha Mishraआस्था मिश्रा Updated Sat, 17 Oct 2015 01:56 PM IST
विज्ञापन
illegal virginity test came out through sting operation

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
बंद दरवाजों के पीछे कितने अमानवीय काम हो जाते हैं पर किसी को पता नहीं चलता। लेकिन जब सामने आते है तो हिला कर रख जाते हैं।
विज्ञापन

ऐसा ही कुछ हुआ जब एक स्टिंग ऑपरेशन ने डॉक्टरों की पोल खोल कर रख दी। तकलीफ से गुजर रहे लोगों की मदद करने वाले डॉक्टर ही जब उन्हें तकलीफ देने लगें तो हताश होने के सिवा क्या बचता है?
ऐसा ही महसूस किया होगा उन मासूम लड़कियों ने जब उन पर जबरन वर्जिनिटी टेस्ट कराकर खुद को साफ सुथरा साबित करने का दबाव बनाया गया होगा। इस काम को अंजाम दिया कई महिला डॉक्टरों ने।
मामला है स्वीडन देश का जहां कई धार्मिक परिवार अपनी लड़कियों का उनकी मर्जी के खिलाफ वर्जिनिटी टेस्ट करा रहे हैं ताकि वे यह साबित कर सकें कि उनकी बेटियां 'पवित्र' हैं।

डेलीमेल की खबर के मुताबिक मामले का खुलासा तब हुआ जब स्वीडेन के न्यूज चैनल टीवी4 की दो महिला पत्रकार हिडेन कैमरा लगाए कई क्लीनिक में गईं।

उनमें से एक 17 साल की लड़की और दूसरी उसकी चाची बनी थी। फुटेज में साफ दिख रहा है कि चाची अपनी भतीजी का टेस्ट कराना चाहती है और वर्जिनिटी सर्टिफिकेट मांग रही है जबकि लड़की करवाने से मना कर रही है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

बच्चियों का भी टेस्ट करने से नहीं चूके डॉक्टर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us