कोहली की शतकीय पारी से बने कई 'विराट' रिकॉर्ड

Vikrant ChaturvediVikrant Chaturvedi Updated Mon, 13 Aug 2012 03:39 PM IST
विज्ञापन
one inning of virat kohli creates many records

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
टीम इंडिया के नए जाबांज विराट कोहली लगातार एक से बढ़कर एक बेहतरीन पारियां खेल रहे हैं। इन्हीं पारियों की बदौलत कोहली जब कभी 'विराट' पारी खेलते हैं उनके नाम कई नए रिकॉर्ड जुड़ जाते हैं। श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 128 रनों की पारी खेलते ही कोहली के नाम कई रिकॉर्ड दर्ज हो गए।
विज्ञापन


दुनिया में सबसे तेज 13 वनडे शतक
भारतीय वनडे टीम के उपकप्तान ने श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 128 रनों की पारी खेलकर अपना 13वां वनडे शतक पूरा किया। इसके साथ ही कोहली दुनिया में सबसे कम मैचों में 13 शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। कोहली ने 89वें मैच की 86वीं पारी में अपना 13वां शतक लगाया। इससे पहले वनडे में सबसे तेज 10 या उससे अधिक शतक लगाने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के गोर्डन ग्रीनिज के नाम दर्ज था। ग्रीनिज ने 99 मैच में अपना 10वां शतक लगाया था। कोहली का यह रिकॉर्ड हालांकि दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला तोड़ सकते हैं, जिन्होंने अभी तक 57 मैच की 56 पारी में नौ शतक लगाए हैं।
2012 में अब तक 5 वनडे शतक
विराट कोहली 2012 में पांच वनडे शतक लगा चुके हैं। कोहली ने ये सभी शतक केवल आठ वनडे पारियों में लगाए हैं। उन्होंने पांच शतकों में चार श्रीलंका के खिलाफ लगाए हैं और एक पड़ोसी देश पाकिस्तान के विरुद्घ जड़ा है। इस साल कोहली के इस रिकॉर्ड के टूटने की कम ही संभावना लगती है। क्योंकि वे जबरदस्त फॉर्म में चल रहे हैं और साल को खत्म होने में अभी काफी समय है।

लगातार दूसरे साल 1000 रन पूरा करने का रिकॉर्ड
श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 128 रनों की पारी की बदौलत कोहली ने 2012 में 1000 वनडे रन पूरे कर लिए। कोहली ने लगातार दूसरे साल 1000 वनडे रन बनाए हैं। यह कारनाम करने वाले कोहली पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। 2011 में कोहली ने 34 वनडे मैचों में 47.62 की औसत से 1,381 रन बनाए थे। वहीं 2012 में अब तक 15 मैचों में 77.15 की औसत से 1,009 रन बनाए हैं।

लक्ष्य का पीछा करते हुए 8वां शतक
लक्ष्य का पीछा करते हुए शतक जड़ने के मामले में भी कोहली जल्द ही अव्वल हो सकते हैं। कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ लक्ष्य का पीछा करते हुए अपना आठवां वनडे शतक लगाया। अब वे इस मामले में केवल शतकों के बादशाह सचिन तेंदुलकर, सनथ जयसूर्या और सईद अनवर से पीछे हैं। सचिन ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 14 शतक लगाए हैं जबकि जयसूर्या और सईद अनवर ने नौ-नौ वनडे संचुरी जड़ी हैं। कोहली ने अब तक 89 वनडे मैच खेले हैं। जबकि सचिन तेंदुलकर ने 400 से ज्यादा वनडे मैच खेले हैं।

लक्ष्य का पीछा करने में माहिर हैं कोहली
भारतीय क्रिकेट के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली लक्ष्य का पीछा करने में काफी माहिर हैं। लक्ष्य का पीछा करने के दौरान उनका बल्ला जमकर बोलता है। कोहली ने 34 मैचों में लक्ष्य का पीछा करते हुए 76.57 की औसत से 1,991 रन बनाए हैं। लक्ष्य का पीछा करने वाली पारियों में 1000 या उससे ज्यादा रन बनाकर शानदार औसत रखने वाले खिलाड़ियों में केवल एमएस धोनी, माइकल क्लॉर्क और माइकल बेवन उनसे आगे हैं। धोनी ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 101.40 की औसत से 1000 से ज्यादा रन बनाए हैं। वहीं ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर माइकल बेवन 86,25 और माइकल क्लॉर्क ने 89.20 की औसत से हजार से ज्यादा रन बनाए हैं।

भारत के 400वीं वनडे जीत के हीरो
श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 128 रनों की पारी खेलकर भारत को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले विराट कोहली का नाम स्वर्ण अक्षरों में अंकित हो गया है। यह जीत भारत की 400वीं वनडे जीत है। भारत ने अपना पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच इंग्लैंड के खिलाफ 13 जुलाई 1974 को लीड्स में खेला था। भारतीय टीम ने हालांकि अपना पहला मैच 11 जून 1975 को विश्व कप में पूर्वी अफ्रीका के खिलाफ जीता था। भारत 400 या इससे अधिक एकदिवसीय मैच जीतने वाला दुनिया का तीसरा देश बन गया है। ऑस्ट्रेलिया ने सर्वाधिक 490 मैच जीते हैं। उसके बाद पाकिस्तान (416 जीत) का नंबर आता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us