सुब्रत राय के विदेश जाने-संपत्ति बेचने पर रोक

अमर उजाला, दिल्ली Updated Fri, 22 Nov 2013 12:22 PM IST
विज्ञापन
sahara_supremecourt_india_sebi

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
निवेशकों के पैसे लौटाने में सहारा समूह की ना-नुकुर पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्त निर्देश देते हुए बृहस्पतिवार उसके मुखिया सुब्रत राय के देश से बाहर जाने पर रोक लगा दी। साथ ही समूह की ओर से कोई भी संपत्ति बेचे जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया।
विज्ञापन


सेबी ने कसा कंपनियों पर शिंकजा
कोर्ट ने कहा कि सभी तरह के विवादों से मुक्त 20 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति के मालिकाना हक के दस्तावेज सेबी को सौंपने के आदेश का समूह ने अक्षरश: पालन नहीं किया।

इसके साथ ही सुब्रत राय और समूह के अन्य निदेशकों वंदना भार्गव, रवि शंकर दुबे तथा अशोक राय चौधरी के देश से बाहर जाने पर अदालत ने प्रतिबंध लगा दिया। जस्टिस केएस राधाकृष्णन की अध्यक्षता वाली पीठ ने निर्देश दिया कि समूह की किसी भी संपत्ति की न्यायालय की अनुमति के बगैर बिक्री नहीं की जाएगी।

वोडाफोन ने लगाया 4,000 करोड़ का दांव


सहारा की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता सीए सुंदरम ने आदेश पर अमल के बारे में कोर्ट को संतुष्ट करने का प्रयास किया, लेकिन सेबी ने उनकी सभी दलीलों को पूरी तरह से नकार दिया।

डाकघरों में सोने के सिक्कों की बिक्री पर उठे सवाल


सेबी ने कहा कि सहारा समूह ने अपनी संपत्ति का अधिक मूल्यांकन किया है और उसने 20 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति के मालिकाना हक से संबंधित मूल दस्तावेज नहीं सौंपे हैं। पीठ सेबी के इस कथन से सहमत थी कि समूह के मूल्यांकन को स्वीकार नहीं किया जा सकता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us