विज्ञापन

12वीं पंचवर्षीय योजना में 8% विकास दर का अनुमान

नई दिल्ली/ब्यूरो Updated Thu, 27 Dec 2012 09:20 AM IST
planning commission projected 8 percent growth in 12th five year plan
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मौजूदा पंचवर्षीय योजना(2012-17) के लिए 8.2 फीसदी विकास दर को योजना आयोग ने महत्वाकांक्षी बताया है। योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया के मुताबिक बारहवीं पंचवर्षीय योजना के दौरान उम्मीद से कम विकास दर रहने अनुमान है।
विज्ञापन
माना जा रहा है कि बारहवीं पंचवर्षीय योजना के दौरान देश की सालाना औसत विकास दर करीब 8 फीसदी रह सकती है। बृहस्पतिवार को होने वाली राष्ट्रीय विकास परिषद (एनडीसी) की बैठक पूर्व संवाददाताओं से चर्चा करते हुए अहलूवालिया ने यह संभावना जाहिर की है।

योजना आयोग ने दूसरी दफा पंचवर्षीय योजना के अनुमान में संशोधन कर देश की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को बयान कर दिया है। उल्लेखनीय है कि पहले पहल आयोग ने बारहवीं पंचवर्षीय योजना के एप्रोच पेपर में वार्षिक औसत विकास दर नौ फीसदी रहने का अनुमान लगाया था। आयोग ने सितंबर 2012 में इस लक्ष्य को संशोधित कर 8.2 फीसदी कर दिया था। अब इसे और कम कर 8 फीसदी विकास दर का अनुमान लगाया जा रहा है।

विकास दर में गिरावट के अनुमान पर सफाई देते हुए अहलूवालिया ने कहा कि पंचवर्षीय योजना के एप्रोच पेपर को पिछले साल एनडीसी से मिली मंजूरी के बाद घरेलू और अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में काफी बदलाव आए हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में देश की अर्थव्यवस्था के लिए सकारात्मक माहौल तैयार करना है।

उन्होंने कहा कि विकास दर में कमी का मुद्दा कल एनडीसी के समक्ष रखा जाएगा। मालूम हो कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में कल होने वाली एनडीसी की बैठक सभी कैबिनेट मंत्री, तमाम राज्यों के मुख्यमंत्री और केंद्र व राज्य के आला अधिकारी शामिल होंगे।

उल्लेखनीय है कि ग्यारहवीं पंचवर्षीय योजना के तहत देश की औसत वार्षिक विकास 7.9 फीसदी रही थी। जबकि बारहवीं पंचवर्षीय योजना के पहले वर्ष (वित्त वर्ष 2012-13) में विकास दर 5.7-5.9 फीसदी के बीच रहने का अनुमान है। अगर यह अनुमान सही हो जाता है तो चालू वित्त वर्ष में विकास दर पिछले दस वर्षों के न्यूनतम स्तर पर आंकी जाएगी।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

गर्भवती को जलाकर मार डाला, कोर्ट ने पति, सास-ससुर को सुनाई बड़ी सजा

दहेज के लिए गर्भवती को जलाकर हत्या करने के मामले में फर्रुखाबाद जिला जज अरुण कुमार मिश्र ने पति, सास, ससुर को उम्रकैद की सजा सुनाई है।

21 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

FB LIVE : एशिया कप में भारत-बांग्लादेश के बीच महाटक्कर, कौन किस पर भारी?

टीम इंडिया शुक्रवार को सुपर चार के अपने पहले मुकाबले में उलटफेर में माहिर बांग्लादेश के खिलाफ उतरेगी। देखिए इसी पर अमर उजाला डॉट कॉम पर FB LIVE

21 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree