नौकरियों की उम्मीद, बैंकिंग और बीपीओ में अवसर

नई दिल्ली/कारोबार डेस्क Updated Wed, 07 Nov 2012 11:16 PM IST
expected jobs opportunities in banking and bpo
पिछले तीन महीने से नौकरियों को लेकर बना रहा मंदी का दौर अब कुछ छंटता नजर आ रहा है। अक्तूबर 2012 में नियुक्ति गतिविधियों में आई तेजी ने नौकरियों के नए अवसरों को लेकर उम्मीद की नई किरण जगाई है। नौकरी जॉब स्पीक इंडेक्स की रिपोर्ट के मुताबिक इस साल सितंबर के मुकाबले अक्तूबर माह के दौरान नियुक्तियां तीन फीसदी अधिक की गईं। रोजगार देने में बैंकिंग और बीपीओ सेक्टर सबसे आगे रहे, जबकि मुंबई और बंगलूरू में नियुक्ति के मामले में सबसे आगे रहे।

जॉब स्पीक इंडेक्स के मुताबिक, अक्तूबर माह के आंकड़ों ने निश्चित तौर पर नौकरियों को लेकर नई उम्मीद जगाई है। लेकिन, इसका मतलब यह कतई नहीं है कि भारतीय उद्योगों का रोजगार परिदृश्य फिर से मजबूत हो गया है। हालांकि, मौजूदा आंकड़ों से सेक्टर वार नियुक्तियों में सुधार के संकेत मिलते हैं। इंडेक्स के अनुसार अक्तूबर में सितंबर के मुकाबले लगभग सभी प्रमुख सेक्टरों में नियुक्ति गतिविधियों में सकारात्मक बदलाव दर्ज किया गया।

जॉब स्पीक इंडेक्स में देखा जाए तो बैंकिंग और बीपीओ में नियुक्ति की गतिविधियां सबसे अधिक हुईं। अक्तूबर में जॉब स्पीक इंडेक्स सितंबर के मुकाबले क्रमश: 15 फीसदी और 11 फीसदी अधिक रहा। इसके साथ ऑटो सेक्टर और दूरसंचार में नियुक्तियों का आंकड़ा समीक्षाधीन अवधि में 6 फीसदी अधिक दर्ज किया गया। हालांकि आईटी, सॉफ्टवेयर, कंस्ट्रक्शन ओर इंश्योरेंस सेक्टर में नौकरियों को लेकर कोई सरगर्मी नहीं रही और इनमें जॉब इंडेक्स लगभग स्थिर रहा।

नियुक्ति में मुंबई, बंगलूरू रहे आगे
नियुक्ति के मामले में मुंबई और बंगलूरू देश के अन्य महानगरों और प्रमुख शहरों के मुकाबले आगे रहे। मुंबई और बंगलूरू में नियुक्ति का आंकड़ा इस साल सितंबर के मुकाबले अक्तूबर में क्रमश: 5 फीसदी और 3 फीसदी अधिक दर्ज किया गया। दिल्ली, चेन्नई और पुणे में नियुक्ति का स्तर स्थिर रहा, जबकि कोलकाता और हैदराबाद में नियुक्ति का स्तर अक्तूबर 12 में 8 फीसदी कम हो गया।
 
अधिकांश नियोक्ता अपनी नियुक्ति योजनाओं को लेकर सतर्कता बरत रहे हैं, लेकिन वह रोजगार परिदृश्य को लेकर आशावादी हैं। अधिकतर नियोक्ता अगले कुछ महीनों के दौरान चुनिंदा नियुक्तियां जारी रखेंगे।
- हितेश ओबेराय, सीईओ, इंफोएज इंडिया

Spotlight

Related Videos

कैसे बनती है 2 मिनट में चप्पल, आप भी देखिए...

चप्पल हमसब की जिंदगी के रोजमर्रा में काम आने वाली चीज है ,लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ये कैसे बनती होगी। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि चप्पल 2 मिनट में कैसे तैयार की जाती है...

21 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper