चीनी अखबार ने कहा, भारतीय पब्लिक सेक्टर 'नपुंसक’

बीजिंग/एजेंसी Updated Fri, 12 Oct 2012 11:03 AM IST
chinese daily terms indian public sector as inefficient and impotent
ख़बर सुनें
चीन के एक सरकारी समाचार पत्र ने कहा है कि भारत का पब्लिक सेक्टर निष्प्रभावी व नपुंसक है। हालांकि, चीनी दैनिक ने भारत के प्राइवेट सेक्टर की तारीफ करते हुए उनके कारोबारी जज्बे की सराहना की है।
 
चीन की सत्तारूढ़ कम्यूनिस्ट पार्टी द्वारा संचालित ग्लोबल टाइम्स ने अपने एक लेख में कहा है कि भारत अपने निष्प्रभावी व नपुंसक पब्लिक सेक्टर के चलते आर्थिक मुश्किलों से जूझ रहा है। पिछले दो दशक के दौरान एशिया की इन दो बड़ी शक्तियों के प्रगति की तुलना करते हुए चीनी दैनिक ने कहा कि पब्लिक सेक्टर की अक्षमता के चलते भारत में उद्यमशीलता की भावना में गिरावट आई है। हालांकि, चीनी दैनिक ने अपने लेख में भारत के प्राइवेट सेक्टर की सराहना करते हुए कहा कि चीन उनसे कुछ सीख सकता है।

हालांकि चीनी अखबार के इस लेख पर भारत की तरफ से कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं की गई है, लेकिन पब्लिक सेक्टर में इस बयान पर काफी रोष है। कूटनीतिक जानकार यह बता रहे हैं कि चीनी अखबार का यह बयान भारत के खिलाफ प्रॉक्सी वार का एक हिस्सा है। इससे पहले भी चीनी दैनिक भारत के संबंध में कई आपत्तिजनक लेख छाप चुके हैं।  

Recommended

Spotlight

Related Videos

संजू की लाइफ में आई ये 309वीं गर्लफ्रेंड, मान्यता ने काटा बवाल

संजय दत्त आए दिन किसी नी किसी वजह से चर्चा में रहते हैं। कभी अपनी रील लाइफ को लेकर तो कभी रियल लाइफ को लेकर। इस बार संजय दत्त अपनी रियल लाइफ को लेकर चर्चा में हैं।

19 अगस्त 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree