बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

तेल कंपनियों की भरपाई के लिए 25 हजार करोड़ रुपये

नई दिल्ली/अमर उजाला ब्यूरो Updated Mon, 11 Feb 2013 10:42 PM IST
विज्ञापन
25 thousand crore compensate for oil companies

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
बाजार मूल्य से कम कीमत पर डीजल, रसोई गैस और किरोसिन की बिक्री से तेल कंपनियों को हो रहे घाटे को पाटने के लिए सरकार जल्द ही 25 हजार करोड़ रुपये नकद सब्सिडी के अतिरिक्त किस्त का भुगतान करेगी। इस बाबत वित्त मंत्रालय ने पिछले हफ्ते तीनों कंपनियों इंडियन ऑयल, एचपीसीएल और बीपीसीएल को चिट्ठी लिखकर राहत पहुंचाई है।
विज्ञापन


सूत्रों की माने तो 25 हजार करोड़ रुपए में से इंडियन ऑयल को 13,474.56 करोड़ रुपये, बीपीसीएल को 5,987.25 करोड़ और एचपीसीएल को 5,538.19 करोड़ रुपये की प्राप्ति होगी। इससे पहले सरकार चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में 30 हजार करोड़ की किस्त सब्सिडी के रुप में दे चुकी है। अपस्ट्रीम कंपनियों की ओर से सब्सिडी के लिए 45 हजार करोड़ रुपए दिये जा चुके हैं।


पेट्रोलियम मंत्रालय के मुताबिक वर्तमान में डीजल बिक्री पर तेल कंपनियों को 9.22 रुपए प्रति लीटर, किरोसिन 31.60 रुपए प्रति लीटर और घरेलू रसोई गैस की बिक्री पर 481 रुपए प्रति सिलेंडर का नुकसान हो रहा है। जबकि इन तीनों इंधनों की बिक्री पर कंपनियों का कुल नुकसान 443 करोड़ रुपए का है। यही वजह है कि तेल कंपनियां लंबे समय से सरकार के इस ऐलान का इंतजार कर रही थी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us