पेशाब करने के मामले में हाथी का भाई है चूहा, पर कैसे?

अमर उजाला, दिल्ली Updated Wed, 23 Oct 2013 11:59 AM IST
विज्ञापन
Scientists Come Up With 'Law of Urination'

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
क्या आपने कभी जानवरों के बीच पेशाब करने की प्रतियोगिता कराने के बारे में सोचा है? शायद ही कभी सोचा हो लेकिन वैज्ञानिकों ने बड़े और छोटे दोनों तरह के स्तनधारियों के पेशाब करने की आदत का विश्लेषण किया है।
विज्ञापन

'भूतों' को कैद करने वाली 17 तस्वीरें
न्यूजर डॉट कॉम की खबर के अनुसार, कई तरह के अध्ययन के बाद वैज्ञानिकों का कहना है कि स्तनधारी चाहे बड़े हों या छोटे वे पेशाब एक ही प्रवाह से करते हैं।

खूबसूरत बला: देखें, दुनिया के 12 जानलेवा पौधे


अटलांटा में जॉर्जिया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी के वैज्ञानिकों ने चूहे, कुत्ते, हाथी, बकरी और गाय के पेशाब करने के समय का अध्ययन किया है।

अध्ययन के आधार पर वैज्ञानिकों का कहना है कि प्रत्येक जानवर पेशाब करने में करीब 21 सेकंड का समय लेता है।

दुनिया का सबसे विशालकाय स्तनधारी हाथी भी अपने मूत्राशय को खाली करने में उतना ही समय लेता है, जितना कोई छोटा स्तनधारी।

11 ऐसी तस्वीरे जो आपने आज तक नहीं देखी होंगी


दरअसल गुरुत्वाकर्षण बल के कारण ऐसा होता है।

'जरा इधर भी' की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें।

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us