केरल का चार्ल्स शोभराजः अपनी जगह पुतला रखा और फरार

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क Updated Wed, 12 Jun 2013 03:08 PM IST
prisoners escape after putting a dummy in his place
कई बार कहा जाता है कि अपराध करने के लिए आम लोगों से ज्यादा अक्लमंदी की जरूरत होती है। लेकिन अपराध को अंजाम देने के बाद जेल से भागने के लिए जिस चतुराई की जरूरत है, वह केरल के इस कैदी से ज्यादा शायद ही किसी के पास हो।
पुलिस ने रिप्पर जयनंदन की तलाश में एक बड़ा अभियान छेड़ दिया है, जो अपनी जगह एक पुतला रख चंपत हो गया और जेल गार्ड इस भ्रम में पड़े रहे कि वह अपने सेल में सोया हुआ है।

इस दुर्दांत अपराधी पर सात महिलाओं के कत्ल का आरोप लगा, हालांकि केवल दो हत्याओं में इसे सजा हुई। सूत्रों के मुताबिक जयनंदन के साथ एक और कैदी भागने में कामयाब रहा, जो चोरी के मामले में सजा काट रहा था।

हालांकि, यह जयनंदन के लिए कोई नई बात नहीं है। 2010 में वह कन्नूर के सेंट्रल जेल से फरार हो गया था। इसके लिए उसने खास रणनीति बनाई। कई दिनों तक भूखा रहकर वजन घटाया और जब बेहद पतला हो गया, तो सलाखों के बीच से निकला और जेल की दीवार फांदकर फरार हो गया।

इस बार तो जेलर पूरी तरह से धोखे में आ गए। जेलर जयनंदन के सेल के बाहर बराबर गश्त कर रहे थे, लेकिन उन्हें कतई अहसास नहीं हुआ कि वह भाग निकला है। दरअसल, जयनंदन ने तकिए और चादर से एक पुतला तैयार किया और उसे अपने सोने की जगह रख दिया था।

Spotlight

Related Videos

पॉपोन के वायरल वीडियो के बाद सामने आया बच्ची और माता-पिता का वीडियो

पॉपोन के वायरल वीडियो और देशभर में हुए बवाल के बाद अब बच्ची और उसके माता-पिता का एक वीडियो सामने आया है जिसमें सभी पॉपोन का समर्थन कर रहे हैं। सुनिए क्या कहा बच्ची और उसके माता-पिता ने।

24 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen