फोन बंद रखिए और खाने का आधा बिल ही भरिए

अमर उजाला, दिल्ली Updated Fri, 22 Nov 2013 04:27 PM IST
विज्ञापन
mobile phone_Israeli restaurant_ dinner_food

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
इजरायल की राजधानी जेरूसलम में एक रेस्टोरेंट मालिक लोगों को यह बताने की कोशिश कर रहा है कि आप हमारे खाने का मजा लीजिए, हम बिल भी आपसे आधा लेंगे लेकिन बदले में आपको अपना मोबाइल फोन बंद करना होगा।
विज्ञापन

क्या आप भी बिना कुछ किए कमाना चाहेंगे हजारों?
जवादत इब्राहिम कहते हैं कि स्मार्टफोन संस्कृति ने खाना खाने की पुरानी परंपरा को बिगाड़ दिया है। उनका मानना है कि उन्होंने जो डिस्काउंट लोगों को दिया है, शायद उससे लोग फिर से आपसी मेलजोल, बातचीत और खाने की तारीफ में अपना समय बिताएंगे ना कि सर्फिंग, मैसेजिंग या फिर फोन कॉल में अपना समय बर्बाद करेंगे।
एक साल तक पति के लाश सोई ये महिला

49 वर्षीय इब्राहिम कहते हैं मैं कुछ तो बदल रहा हूं। शायद यह बहुत छोटी तब्दीली है लेकिन मैं खाने के तौर तरीके को बदल दूंगा।

इब्राहिम ने अपने शहर के नाम पर ही अपने रेस्टोरेंट का नाम रख दिया, अबू घोष। यह रेस्टोरेंट राजधानी जेरूसलम से 10 किलोमीटर बाहर स्थित है। यह शहर अपनी आपसी मेलजोल के अलावा क्रीमी काबुली चने की चटनी और भुने मीट के लिए मशहूर है।

इब्राहिम ने इस रेस्टोरेंट की शुरुआत 1993 में लॉटरी में जीते हुए पैसे से की थी। इब्राहिम कहते हैं कि 'मोबाइल रोग' से ग्रसित इस देश में खाने खाते हुए बातचीत की आदत खत्म हो गई है। लेकिन स्मार्टफोन के आने के बाद से ये चीजे तो और खराब हो गई हैं।

द वाशिंगटन पोस्ट की खबर के अनुसार, वो कहते हैं कि दोस्तों का समूह हो या शादी शुदा जोड़े, सभी खाने की मेज पर बैठे हुए अपना-अपना मोबाइल स्क्रीन देखते रहते हैं, और फिर कहते हैं कि क्या खाना फिर से गरम हो पाएगा?

यह पैर है या पहाड़? एक युवती बन गई 'डायन'

टेक्नॉलॉजी अच्छी चीज है। लेकिन जब आप खा रहे हों, खासकर जब आप किसी और के साथ हों तो खाने का मजा लीजिए, बातें कीजिए। कई लोग चुपचाप बैठे रहते हैं और ना तो साथियों का और ना ही खाने का मजा लेते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us