गायों ने छोड़ी गैस और हो गया धमाका

Bhumika Rai Updated Wed, 29 Jan 2014 11:35 AM IST
cows_cause_methane_blast
जर्मनी में एक ऐसा वाकया पेश आया जिसे सुनकर बड़ी हैरानी होती है। मामला यह है कि जर्मनी में एक कस्बा है रेसडोर्फ़, जहां एक डेयरी में धमाका हो गया।

दूर हो जाएगा टूथपेस्ट से जुड़ा एक बहुत बड़ा भ्रम, पढें ये खबर

पुलिस का कहना है कि इस धमाके के लिए डेयरी में बंधी गायें ज़िम्मेदार हैं। पुलिस का दावा है कि धमाका उस मीथेन गैस की वजह से हुआ जो इन गायों ने छोड़ी थी।

खुद तो था HIV संक्रमित, पर सेक्स कर औरों को भी बनाया

डेयरी में दस-बीस नहीं बल्कि पूरी 90 गायें बंधी थीं। मीथेन गैस की वजह से हुआ यह धमाका इतना ज़ोरदार था कि डेयरी की छत टूट-फूट गई और एक गाय ज़ख्मी भी हो गई।

खूबसूरती ऐसी की, थम जाएगी दिल की धड़कन

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक़, पुलिस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, ''इलेक्ट्रिक चार्ज की वजह से गैस ने आग पकड़ी और धमाका हो गया।''

मीथेन और अमोनिया

स्थानीय मीडिया का कहना है कि आपातसेवा से जुड़े कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचे और उन्होंने वहां मौजूद गैस की मात्रा नापी ताकि आगे किसी और धमाके की आशंका को ख़त्म किया जा सके।

cow













'पकड़ तो लिया, पर अब इसे खाऊं तो खाऊं कैसे?'

माना जाता है कि गायें हर दिन 500 लीटर तक मीथेन गैस उत्सर्जित करती हैं। इसी तरह, बूचड़खानों से व्यापक स्तर पर मीथेन गैस निकलती है जहां बड़े पैमाने पर मवेशियों को मांस के लिए काटा जाता है।

मीथेन, ग्रीन हाउस गैसों की श्रेणी में आती है जिन्हें पर्यावरण के लिए ख़तरा माना जाता है। गायें सिर्फ़ मीथेन ही नहीं, बड़ी मात्रा में अमोनिया गैस भी उत्सर्जित करती हैं जिससे मिट्टी और पानी दोनों ही ज़हरीले हो सकते हैं।

Spotlight

Related Videos

दावोस में 'क्रिस्टल अवॉर्ड' मिलने के बाद सुपरस्टार शाहरुख खान ने रखी 'तीन तलाक' पर अपनी राय

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls