विज्ञापन
विज्ञापन

स्नान के बाद श्रद्धालुओं को दिखे ‘भगवान’

अमित सरन/महाकुंभ नगर Updated Mon, 28 Jan 2013 12:02 PM IST
pilgrims saw 'god' after bath
ख़बर सुनें
कहते हैं, बच्चों में भगवान बसते हैं। पौष पूर्णिमा पर लोगों ने यह भी देखा। संगम में स्नान के बाद श्रद्धालुओं को वापसी मार्ग पर ‘कृष्ण भगवान’ के दर्शन हुए। भगवान पर चढ़ावे की बौछार हो गई। दोपहर 12 बजे का वक्त था। संगम घाट पर स्नान के बाद अक्षयवट मार्ग से लौट रहे श्रद्धालुओं के कदम पटरी पर बैठे एक बच्चे को देखकर खुद-ब-खुद ठहर जाते। तीन साल के इस बच्चे का नाम अंजुल है, जो भगवान कृष्ण की ड्रेस पहनकर भिक्षा मांगता है लेकिन रविवार को उसे किसी से कुछ मांगने की जरूरत नहीं पड़ी।
विज्ञापन
अंजुल के सामने रखे कटोरे में कोई एक तो कोई पांच रुपए का सिक्का खुद ही डाल देता, हाथ जोड़कर उसे प्रणाम भी करता, जय श्रीकृष्ण बोलता और आगे बढ़ जाता। आधे घंटे में अंजुल के सामने रखा कटोरा सिक्कों से भर गया लेकिन वह मोबाइल पर गाना सुनने में ही व्यस्त रहा और बीच-बीच में रांग नंबर डायल कर किसी से भी बात कर लेता।

बगल में बैठा एक व्यक्ति कटोरे के सिक्कों को एक झोली में डालकर खाली कटोरा अंजुल के सामने दोबारा रख देता। अंजुल ने तोतली आवाज में अपना नाम बताया और जब पूछा गया कि वह कहां रहता है तो जवाब दिया कि मेला में घर है संगम घाट पर स्नान के बाद वापसी के लिए निर्धारित रास्तों में सबसे ज्यादा भीड़ अक्षयवट मार्ग पर रहती है।

रविवार को इस मार्ग से निकलने वालों को लगा की वहां कोई फैंसी ड्रेस कंपटीशन हो रहा है। हजारों भिक्षुओं की कतार में दर्जन भर से ज्यादा बच्चे शामिल थे, जिन्होंने भगवान श्रीकृष्ण, राम-सीता, भगवान शंकर की ड्रेस पहन रखी थी। तीन से आठ साल की उम्र के इन बच्चों ने पौष पूर्णिमा पर खासी कमाई कर ली।

सीता की ड्रेस में बैठी छह साल की रश्मि के हाथ में चॉकोबार आइस्क्रीम थी, जो अक्सर वह कार से पिकनिक मनाने के लिए संगम आने वाले बच्चों के हाथों में देखा करती थी। उसका चेहरा खुशी से चमक रहा था। रश्मि को भिक्षा के तौर पर एक घंटे में दो सौ रुपए मिले। पौष पूर्णिमा पर रश्मि और अंजुल की तरह भिक्षुओं की कतार में बैठे तमाम बच्चों को एक दिन के लिए पिकनिक मनाने का मौका मिला।
विज्ञापन

Recommended

vivo Grand Diwali Fest: vivo के स्मार्टफोन पर 11,000 रुपये तक की छूट
vivo smartphone

vivo Grand Diwali Fest: vivo के स्मार्टफोन पर 11,000 रुपये तक की छूट

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

अमर उजाला के संपादक डॉक्टर इंदुशेखर पंचोली को मातृ शोक

प्रमुख साहित्यकार और शिक्षाविद डॉक्टर बद्रीप्रसाद पंचोली की धर्मपत्नी एवं अमर उजाला दिल्ली के संपादक डॉ. इंदुशेखर पंचोली की माताजी श्रीमती कमला पंचोली का बुधवार तड़के अजमेर में निधन हो गया। वे 80 वर्ष की थीं।

2 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

बिहार के सहरसा में आरजेडी की रैली में हाथापाई, मंच से सब देखते रहे तेजस्वी यादव

बिहार के सहरसा में राष्ट्रीय जनता दल की रैली में हंगामा और जमकर हाथापाई हुई। जिसके बाद पुलिस को हालात काबू में करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। वहीं तेजस्वी यादव मंच से ये सब देखते रहे।

13 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
)