बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शोध: दुनिया भर में बढ़ती गर्मी किडनी के लिए है खतरनाक, भारत भी चपेट में

टीम डिजिटल/ अमर उजाला Updated Wed, 11 May 2016 02:53 PM IST
विज्ञापन
increasing temperature world wide risking you kidney
- फोटो : gettyimages
ख़बर सुनें
बहुत ज्यादा गर्मी किसी के भी बर्दाश्त से बाहर है। लंबे समय तक गर्म जगहों पर रहने से कई सारी बीमारियां सामने आती है लेकिन अब शोध कह रहे हैं कि बहुत ज्यादा बढ़े तापमान में रहने से किडनी की गंभीर बीमारियां हो जाती हैं। शोध बताते हैं कि इस स्थिति को हीट स्ट्रेस कहते हैं। 
विज्ञापन


शोधकर्ताओं का कहना है कि आने वाली सदियों में पूरी दुनिया का तापमान तेजी से बढ़ रहा है जिससे पानी की कमी से भी जूझना पड़ेगा। बढ़ते तापमान और पानी की कमी से कई सारी स्वास्थ्य संबंधी

दिक्कतें घेर लेगी जिसमें डीहाइड्रेशन और हीट स्ट्रेस प्रमुख हैं। 

अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोरेडो स्कूल ऑफ मेडिसिन की एक टीम जिसे रिचर्ड जॉनसन और जै लीमन ने नेतृत्व किया का कहना है कि किडनी की नई तरह की बीमारियों का कारण कुछ भी पाराम्परिक नहीं है बल्कि तेजी से बढ़ता तापमान है जो हीट स्ट्रेस और शरीर में पानी की कमी को बढ़ावा देता है। खासतौर पर गांवों में जहां पहले से ज्यादा गर्मी है, वहां असर ज्यादा होगा। खेतों  में काम करने वाले लोगों पर इसका असर ज्यादा हो सकता है। 

शोधकर्ताओं का कहना है कि सरकारों और वैज्ञानिकों को साथ मिलकर आगे आना होगा और इस तरह काम करना होगा। किडनी की एक खासतरह की बीमारी दुनिया भर के उन सभी गर्म देशों में परेशान करने वाली हैं जहां इस महामारी की वजह ग्लोबल वार्मिंग होगी।  
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X