विज्ञापन
विज्ञापन

तुम तो ऐसी नहीं थी

अमिताभ श्रीवास्तव Updated Tue, 11 Dec 2012 05:25 PM IST
you were not like this
ख़बर सुनें
हे साइज जीरो जनवाहिनी साइकिल! बचपन से यह प्रश्न इस बालमति को आतंकित करता रहा है कि दो चक्रों पर चलकर भी आप गिरती क्यों नहीं। वह प्रश्न आज तक हल न हुआ और आज सवाल उठ खड़ा है, आप ‘उन्हें’ गिराती क्यों नहीं। अकसर आप कहती रहीं कि वे वैसे नहीं, जैसे वे खुद को कहते हैं। उनके राजकुंवर कई बार आपके पिछले पहिए की हवा भी निकाल गए। भला हो आपके पहलवान जी का कि भरी बुढ़ौती में फूंक-फूंक कर हवा भरी और फिर तुम ऐसी चली कि जो जीता, वह सिकंदर के मिस्टर परफेक्शनिस्ट की स्वीट साइकिल हो गई।
विज्ञापन
पर फिर क्या हुआ। तुम चली किधर और पहुंची किधर। तुम्हें पता ही नहीं चला कि तुम्हारे कैरियर पर कब ‘वे’ बैठ गए। फिर चुपके से वे उतरे और वालमार्ट बैठ गए। तुम तो अपने कैरियर की बड़ी सुहानी कहानी कहती थी। बड़े गुमान से फरमाती थी कि इस कैरियर पर देश का अन्नदाता विराजता है, इस देश की तकदीर बदलने वाला मजदूर बैठता है, वह बैठता है, जिसके पास खुद को बैठने का ठौर भले नहीं है, लेकिन जिसे वह चाहे, वही इस देश की राजगद्दी पर बैठता है। फिर कैसा भचका लगा कि वह बंदा सड़क पर जा गिरा और वह परदेसी जा चढ़ा, जिसका जिक्र आते ही पहलवान जी उस पर चढ़ बैठते थे।
 
किस अदा से तुम खेतों की मेड़ों पर इठलाती थी। न तुम्हें देसी मिट्टी के तेल की जरूरत थी, न विदेश से आए पेट्रोल की। फिर क्या हुआ कि तुम गांव के खेत भूल गई। पगडंडी छोड़ शहर की सड़क पर उतर आई। सह गए यह सब देखकर। सोचा, तुम्हें भी आगे जाने की जल्दी होगी। पर झटखा खा गए, जब देखा कि तुम तो राजपथ पर अदा दिखा रही हो। ऐसा राजपथ जिस पर उस खेत की मिट्टी को भी टिकने का हक नहीं, जिसकी मिट्टी तुम्हारे पहलवान जी मला करते थे। तुम तो साइकिल थी, तुम हाथी की चाल कैसे चल पड़ी।

कौन-सी जिम्मेदारी निभाने को मिली तुम्हें? एक ऐसी खटारा को खींचने की, जो खुद ही टैं बोलने के लिए राइट टाइम खोज रही हो। वह खटारा तो सर्विसिंग कराकर चलने की कोशिश भी कर ले, पर तुम्हें तो शहरी सफारी राजपथ की पार्किंग पर भी जगह नहीं देंगे। राजपथ वालों की सोसाइटी में साइकिल चलने की जगह नहीं। यहां बस साइकिल एक जगह बांध कर उस पर दुबला होने के लिए पसीने बहाए जाते हैं। उम्मीद है, यह सब सुनकर तुम्हें पसीना नहीं आएगा।
विज्ञापन

Recommended

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका
TAMS

बनाएं डिजिटल मीडिया में करियर, कोर्स के बाद प्लेसमेंट का भी मौका

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

अब मुद्दा सिर्फ पाक अधिकृत कश्मीर

भारत के कदम से पाकिस्तान की नींद हराम हो गई है, क्योंकि कश्मीर अब कोई मुद्दा ही नहीं रहा। अब केवल एक मुद्दा बाकी है कि पाक अधिकृत कश्मीर को पाकिस्तान के कब्जे से कैसे वापस लाया जाए। इस मामले में हमारी सरकार भी कड़े तेवर दिखा रही है।

19 अगस्त 2019

विज्ञापन

पाकिस्तान में परफॉर्मेंस करने को लेकर मीका सिंह के खिलाफ प्रदर्शन जारी, अब AICWA सड़कों पर उतरा

भारत, पाकिस्तान विवाद के बीच कराची में शो करने वाले बॉलीवुड सिंगर मीका सिंह के खिलाफ विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि मीका माफी मांग चुके हैं लेकिन लोगों में गुस्सा कम नहीं हो रहा।

19 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree