विज्ञापन
विज्ञापन

Rajasthan Election Result 2018: "मोदी जी से बैर नहीं वसुंधरा तेरी खैर नहीं' से निराश हुई भाजपा?

Anil Pandeyअनिल पांडेय Updated Tue, 11 Dec 2018 04:36 PM IST
वसुंधरा राजे से नाराजगी को भाजपा ने नजरअंदाज किया।
वसुंधरा राजे से नाराजगी को भाजपा ने नजरअंदाज किया। - फोटो : File Photo
ख़बर सुनें
11 दिसंबर को 5 राज्यों के चुनाव परिणामों से राजस्थान में भाजपा को बड़ा झटका लगा है। चुनाव परिणामों के बीच शुरुआती रुझान इस बात की ओर इशारा कर रहे हैं कि राज्य में वसुंधरा सरकार की विदाई तय है और कांग्रेस ने बहुमत की ओर है। राज्य की 199 सीटों में से 69 बीजेपी को मिलने के संकेत हैं जबकि 105 कांग्रेस व 25 अन्य विधायकों को मिले हैं। बता दें कि अभी पूरे नतीजे नहीं आए हैं।
विज्ञापन
बहरहाल, यह पहला मौका नहीं है कि राजस्थान में सरकार एक टर्म के बाद बदल रही है बल्कि देढ़ दशक से ऐसा हो रहा है। खास बात यह है कि राजस्थान में बीजेपी के पास इस बार सुनहरा मौका था कि वह राज्य में बदलती हुई सरकारों  की  परिपाटी बदलती, लेकिन वह मौका उसने गवां दिया। 

क्यों राजस्थान गंवा दिया भाजपा ने? 
भाजपा राजस्थान में दोबारा सरकार बना सकती थी, लेकिन वसुंधरा राजे की इमेज को बड़ी करने और दूसरों के चेहरों को छोटा करना भाजपा के लिए नुकसानदायक साबित हुआ। "मोदी जी से बैर नहीं वसुंधरा तेरी खैर नहीं' जैसे नारों को यदि संगठन और विशेष रूप से अमित शाह गंभीरता से लेते तो संभवतः इन चुनाव परिणामों को बदला जा सकता था।

दरअसल, राज्य में टिकट बंटवारे से लेकर भाजपा के राज्य अध्यक्ष बदलने तक सभी जगह वसुंधरा के निर्णय पार्टी पर हावी रहे हैं। बता दें कि भाजपा को पिछले विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत के चलते 200 सीटों में से 163 सीटें हासिल हुई थीं। भाजपा को इस बात का पहले से ही डर था कि इस प्रचंड बहुमत से सरकार चलाने के बाद अब इन चुनावों में टिकट का बंटवारा सही तरीके से नहीं हुआ, तो बगावत पार्टी को ले डूबेगी। 
 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश
Dholpur Fresh

प्रथम श्रेणी के दुग्ध उत्पादों के लिए प्रतिबद्ध है धौलपुर फ्रेश

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

देशहित में है सीएबी

इस विधेयक में ऐसा कुछ भी नहीं है, जो किसी भारतीय नागरिक के मामूली अधिकारों को प्रभावित करता है, चाहे वह मुस्लिम हो या किसी अन्य धर्म का। इसमें कोई भेदभाव नहीं है, यह तीन इस्लामी राष्ट्रों के सभी धार्मिक अल्पसंख्यकों की बात करता है।

13 दिसंबर 2019

विज्ञापन

'मरदानी 2' पब्लिक रिव्यू: जनता से जानें कैसी है 'मरदानी 2'

रानी मुखर्जी की फिल्म 'मरदानी 2' रिलीज हो गई है। फिल्म को देखने के बाद जनता का क्या कहना है देखिए रिपोर्ट

13 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Safalta

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us