बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

कुरुक्षेत्र: ममता का पत्र और पीके का दावा, क्या हैं वाराणसी में मोदी को घेरने की घोषणा के मायने?

अमर उजाला ब्यूरो, नई दिल्ली Published by: विनोद अग्निहोत्री Updated Wed, 07 Apr 2021 12:22 PM IST

सार

  •  ममता बनर्जी ने भाजपा के हिंदू ध्रुवीकरण के दांव की काट के लिए कई चालें चलीं
  • हिंदू ध्रुवीकरण रोकने के लिए ममता बनर्जी ने चला महिला और बंगाली अस्मिता का कार्ड
विज्ञापन
पीएम मोदी, ममता बनर्जी, अमित शाह और प्रशांत किशोर
पीएम मोदी, ममता बनर्जी, अमित शाह और प्रशांत किशोर - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

विस्तार

ममता बनर्जी द्वारा विपक्ष के नेताओं को भाजपा के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने के लिए लिखा गया पत्र क्या महज पश्चिम बंगाल के चुनावों में गैर भाजपा मतदाताओं को तृणमूल कांग्रेस की ओर खींचने की महज एक चाल है या ममता वाकई राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा के खिलाफ एक सशक्त विकल्प बनाने के प्रति गंभीर हैं। भाजपा ममता के पत्र को उनकी संभावित हार का डर बता रही है, लेकिन दूसरी ओर तृणमूल कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर पार्टी की जीत और भाजपा की सीटें किसी भी हालत में सैकड़ा न पार करने को लेकर अपने वचन पर जिस तरह डटे हुए हैं, उससे इस पत्र को ममता की भावी रणनीति का एक दांव माना जाना चाहिए।
विज्ञापन


फिलहाल, ममता की इस अपील पर अभी तक कांग्रेस या किसी भी दूसरे गैर भाजपा दल ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। न किसी ने इसका स्वागत और समर्थन किया और न ही किसी ने इसे खारिज किया, लेकिन कांग्रेस का संत चेहरा माने जाने वाले आचार्य प्रमोद कृष्णम ने जरूर ममता की चिट्ठी का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि सभी विपक्षी दलों को इस मुद्दे पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। अब सवाल है कि आखिर बंगाल में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ममता की हार व भाजपा की तूफानी जीत की चुनावी भविष्यवाणी कर रहे हैं, तब तृणमूल कांग्रेस, ममता बनर्जी और उनके चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर यानी पीके अपनी जीत को लेकर इतने आश्वस्त क्यों हैं। आखिर वो कौन से जमीनी तथ्य हैं जो उन्हें न सिर्फ भाजपा के सशक्त चुनावी तंत्र, अकूत संसाधन और मोदी-शाह जैसी आक्रामक प्रचार वाली सियासी जोड़ी के सामने अकेले ममता बनर्जी को मजबूती से न सिर्फ जमाए हुए हैं, बल्कि उनमें जीत की उम्मीद भी बरकरार रखे हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

  • Downloads

Follow Us